शाजापुर में निभाई गई 268 साल पुरानी परंपरा दशमी पर हुआ ऐतिहासिक कंस वधोत्सव कार्यक्रम, देव और दानवों के बीच वाकयुद्ध में, छाए रहे ज्वलंत मुद्दे,गवली समाजजन लाठियों से पीटते ले गए कंस का पुतला

0 401

शाजापुर शहर में 268 वर्ष पुरानी ऐतिहासिक परंपरा कंस वध उत्सव का कार्यक्रम हुआ यहां सोमवारिया बाजार में रात 12 बजे श्री कृष्ण का रूप धरे कलाकार ने कंस के पुतले का वध किया इससे पूर्व रात 10 बजे सोमवार है बाजार में श्री कृष्ण बलराम धनसूखा और मनसूखा का रूप धरे कलाकार पहुंचे

वहीं कंस के दरबारी के रूप में दानवों का रूप धरकर आधा दर्जन कलाकार आ गए यहां पर देव और राक्षसों के बीच जमकर वाकयुद्ध हुआ।। इस वाक युद्ध मे वर्तमान परिदृश्य के आधार पर तैयार किये गए संवाद तैयार किये गए जिनका उपस्थित जनो ने खुद लुत्फ उठाया ।।

रात 12 बजे श्री कृष्ण बलराम सहित अन्य ने कंस चौराहे पर बनाये गए मंच पर विराजित कंस के पुतले का पूजन कर मचंबसे नीचे पटक दिया। पुतले के नीचे आते ही गवली समाज के लोगो ने उस पर लाठियां बरसानी शुरू कर दी और उसे घसीटते हुए वहां से ले गए।

यह परंपरा उप्र के बाद शाजापुर में शुरू हुई थी जो 268 वर्षों से चली आ रही है ।।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 

ग्रामीण क्षेत्रों की आबादी में आवासीय जमीन का मालिकाना अधिकार पत्र दिया जायेगा- कलेक्टर श्री जैन     |     शाजापुर की सरस्वती विद्या मंदिर दुपाड़ा मार्ग पर गणतंत्र दिवस का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया     |     Video -शाजापुर में गणतंत्र दिवस पर, मक्सी, बेरछा, कोतवाली, मोहन बडोदिया टीआई नप,cmo, cmho, आबकारी अधिकारी सहित कई हुए सम्मानित     |     शाजापुर में राज्यमंत्री श्री यादव ने ध्वजारोहण कर सलामी ली , 73 वॉ गणतंत्र दिवस हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया     |     शाजापुर जिले में आज 28 कोरोना पाजीटिव मरीज मिले     |     Breking बेरछा पुलिस को मिली बड़ी सफलता,पूछताछ में स्मेक खरीदने,बेचने वाले 4 आरोपी ओर हुए नामजद,3 गिरफ्तार     |     Video गणतंत्र दिवस समारोह के लिए फाईनल रिहर्सल,तहसीलदार श्री राजाराम करजरे ने मुख्य अतिथि बनकर परेड की सलामी ली,कलेक्टर एसपी रहे मौजूद व्यवस्था देखी     |     संभागायुक्त ने अधिकारी एवं कर्मचारियों के निजी चिकित्सा प्रतिपूर्ति की कार्योत्तर स्वीकृति की बैठक ली, 251 चिकित्सा प्रतिपूर्ति की समीक्षा की गई     |     लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत समय-सीमा में आवेदन-पत्रों का निराकरण नहीं करने पर कलेक्टर ने 10 नायब तहसीलदार एवं तहसीलदारों पर व एक मुख्य नगर पालिका अधिकारी पर ढाई-ढाई सौ रुपये का जुर्माना किया     |     नापतौल विभाग द्वारा विशेष जांच अभियान के तहत प्रकरण पंजीबद्ध     |    

Don`t copy text!