कोविड-19 अभी भी स्वास्थ्य आपातकाल : डब्ल्यूएचओ

जिनेवा| विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने बुधवार को कहा कि कोविड-19 अभी भी अंतर्राष्ट्रीय चिंता का एक सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल (पीएचईआईसी) है, जो डब्ल्यूएचओ का सर्वोच्च अलर्ट स्तर है।
समाचार एजेंसी शिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, हालांकि यह घोषणा हुई कि महामारी शुरू होने के बाद से साप्ताहिक मौतों की संख्या लगभग अपने न्यूनतम स्तर पर है।
डब्ल्यूएचओ की अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य विनियम आपातकालीन समिति ने पिछले सप्ताह अपनी त्रैमासिक मूल्यांकन बैठक के बाद कहा कि कोविड-19 के गंभीर मामलों में गिरावट और साप्ताहिक मौतों की गिरती संख्या के बावजूद कोविड-19 से होने वाली मौतें अन्य श्वसन वायरस से संक्रमण की तुलना में अधिक हैं।
इसने कोविड-19 से संबंधित जटिलताओं और कोविड-19 के बाद की स्थितियों के बारे में भी चेतावनी दी और कहा, इस वायरस का पूर्ण प्रभाव अभी भी पूरी तरह से समझा नहीं गया है। समिति ने कहा कि इसका प्रकोप उत्तरी गोलार्ध में आगामी सर्दियों के मौसम में भी विकसित हो सकता है।
इस बीच, कोविड-19 की वैश्विक निगरानी में मौजूदा अंतराल ने वायरस के विकास की प्रारंभिक पहचान और मूल्यांकन में बाधा उत्पन्न की है।
समिति ने कहा कि भविष्य के वेरिएंट की आनुवंशिक और एंटीजेनिक विशेषताओं का अभी तक मजबूती से अनुमान नहीं लगाया जा सकता। समिति ने चेतावनी दी है कि विकसित होने वाले वेरिएंट मौजूदा टीकों और चिकित्सा विज्ञान के लिए चुनौतियों का सामना कर सकते हैं।
समिति ने सिफारिश की कि भविष्य में तीन प्रमुख प्राथमिकताएं होनी चाहिए : निगरानी को मजबूत करना और जोखिम-समूहों के लिए टीकाकरण लक्ष्य प्राप्त करना, सस्ती चिकित्सीय तक पहुंच बढ़ाना जारी रखना और सबसे अधिक जोखिम वाले समूहों की रक्षा के लिए जारी रखते हुए महामारी की तैयारी योजना को मजबूत करना।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

विद्यार्थी अपने भविष्य के लिए पसंद का क्षेत्र चुने और मेहनत कर आगे बढ़े- कलेक्टर सुश्री बाफना     |     सनसनीखेज एवं जघन्य अपराधों के प्रकरणों की कलेक्टर एसपी ने की समीक्षा     |     जिले में कार्यरत समूहों को सहकारी समिति के रूप में पंजीकृत कराने के लिए प्रस्ताव तैयार करें- कलेक्टर सुश्री बाफना     |     प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने केन-बेतवा परियोजना के भूमिपूजन के लिए किया अनुरोध     |     संपदा पोर्टल पर रजिस्ट्री दर्ज होते ही तहसीलदार नामांतरण का प्रकरण दर्ज करें – राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये     |     Ujjain कविताएं और साहित्य हमे सिखातें है जीवन जीने का तरीका : कलेक्टर श्री नीरज कुमार सिंह     |     स्कूल पहुचने पर संभागायुक्त श्री गुप्ता को अपने बचपन की यादें ताजा हुई, छात्रों से द्रौणाचार्य के शिष्यों और पूर्व राष्ट्रपति मिसाईल मेन के बारे में प्रश्न पूछे, सेवा स्कूल में वाटर कूलर भेंट करने की घोषणा की     |     “स्कूल चले हम अभियान” के तहत उज्जैन SP ने की सहभागिता     |     इंदौर कलेक्टर बने शिक्षक, स्कूल चले अभियान के तहत कलेक्टर आशीष सिंह पहुंचे शासकीय स्कूल, कलेक्टर ने बच्चों को अनुशासन और मेहनत के साथ पढ़ाई के लिए किया प्रेरित     |     रील्स बनाकर इंटरनेट मीडिया पर छाई बुंदेलखंड के पहाड़गांव की बेटी     |