कलेक्टर दिनेश जैन अचानक पहुंचे शाजापुर जिला अस्पताल तैयारियों का जायजा लेकर बैठक ली

कलेक्टर ने की कोरोना मरीजों के उपचार की तैयारियों की समीक्षा

शाजापुर, 05 जनवरी 2022/ कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर एवं आसपास के जिलों में संक्रमण की बढ़ती दर को देखते हुए कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने आज जिला चिकित्सालय में कोरोना नियंत्रण एवं मरीजों के उपचार के लिए किये जाने वाले उपायों के संबंध में बैठक ली। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्रीमती मिशा सिंह, अपर कलेक्टर श्रीमती मंजूषा विक्रांत राय, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री टीएस बघेल, अनुविभागीय अधिकारी श्रीमती शैली कनाश, सीएमएचओ डॉ. आर. निदारिया, सिविल सर्जन डॉ. बीएस मैना, चिकित्सक डॉ. आलोक सक्सेना, डॉ. शुभम गुप्ता, डॉ. मोहसीन खान, सीएमओ श्री भूपेन्द्र दीक्षित भी उपस्थित थे।

कलेक्टर श्री जैन ने कोरोना नियंत्रण एवं मरीजों के उपचार के लिए किये जाने वाले उपायों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिये कि सेम्पल लेने एवं टेस्टिंग के लिए नोडल ऑफिसर नियुक्त करें। बिना मास्क पहने लोगों पर चालानी कार्यवाही के लिए अभियान चलाएं। सेम्पल लेने के बाद प्राप्त होने वाली टेस्ट रिपोर्ट को सही समय पर शेयर करें। अधिक से अधिक सेम्पल लें। सेम्पल लेने एवं भर्ती मरीजों आदि के आंकड़ों में एकरूपता रहे। काम करने वाले ऑपरेटर्स को प्रशिक्षण दें। सेम्पल लेने एवं टेस्ट रिपोर्ट का बुलेटिन प्रतिदिन शाम को 5.00 बजे जारी करें। निजी पैथालॉजी लैब मनमानी दर नहीं वसूलें, इसके लिए दरों का निर्धारण करें। चिकित्सालय में ऑक्सीजन प्रबंधन के लिए नोडल अधिकारी बनाएं। अस्पताल में मरीज के आते ही उसका प्रारंभिक उपचार शुरू करें। पहले से तय रखें कि मरीजों को किस वार्ड में शिफ्ट करना है। मरीजों के साथ आने वाले परिजनों की संख्या पहले से तय रखें। साथ ही परिजनों के रूकने के लिए व्यवस्था बनाएं। सभी वाहन एवं एम्बुलेंस चालु स्थिति में रखें। दवाईयों का पर्याप्त मात्रा में भण्डारण रखें। चिकित्सकों की ड्यूटी वार्डवार लगाएं। होम आईसोलेशन में रखे जाने वाले मरीजों पर विशेष नजर रखें। कोविड-19 के लिए स्वीकृत पदों पर नियुक्ति दें। कोविड केयर सेंटर पर व्यवस्थाएं तैयार रखें। साथ ही कोविड कमांड सेंटर भी तत्काल शुरू करें।

कलेक्टर ने कहा कि कोविड-19 के कार्यों को सर्वोच्च प्राथमिकता दें। जिला चिकित्सालय एवं सिविल अस्पतालों में व्यवस्थाएं दुरूस्त रहें। 15 से 18 वर्ष के बच्चों के चल रहे टीकाकरण के कार्य को 10 जनवरी 2022 तक पूर्ण करें। विद्यालय में नहीं जाने वाले 15 से 18 वर्ष तक के बच्चों की सूची ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत सचिवों से बनवाएं। शहरी क्षेत्रों में घर-घर जाकर संपर्क करते हुए सूची तैयार करें।

कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय के फीवर क्लिनिक का भी निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने चिकित्सालय परिसर में अनावश्यक रूप से घूमने वाले लोगों को बाहर करने तथा मास्क नहीं लगाने वालों पर जुर्माना करने के निर्देश दिये।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

चेहरे पर पॉलिथीन बांधकर मुंह में डाल ली नाइट्रोजन गैस की पाइप ,सुसाइड का ऐसा तरीका सुनकर हिल जाएंगे आप     |     सागर के खुरई में हुई घटना को लेकर महिला कांग्रेस ने किया जमकर विरोध प्रदर्शन…     |     पुलिस ने किया हत्या का खुलासा, बेटे ने मां और बहन के साथ मिलकर पिता को उतारा था मौत के घाट ,जानें पूरा मामला…     |     इंदौर में एक परिवार इच्छा मृत्यु की कर रहा मांग, जानिए क्या है पूरा मामला…     |     तालाब की खुदाई के दौरान मिली थैली ,खोलकर देखा तो निकलीं लाखों रुपए की गड्डियां…     |     नर्मदापुरम जिला अस्पताल में महिला की मौत के बाद हंगामा ,परिजनों ने वार्ड बॉय पर लगाए गंभीर आरोप…     |     नौकरी दिलाने के नाम पर युवती से कार में गैंगरेप, पुलिस ने मौके से दबोचे 4 आरोपी     |     श्री हरमंदिर साहिब में नतमस्तक हुए सीएम मोहन यादव, देखिए तस्वीरें     |     महाकाल मंदिर में सुरक्षाकर्मियों और श्रद्धालुओं के बीच हुई जमकर मारपीट..     |     उधार पैसे नहीं दिए तो दोस्त ने दोस्त को उतार दिया मौत के घाट, डेढ़ महीने से लापता था व्यापारी ,पुलिस ने किया खुलासा..     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए सम्पर्क करें