ओबीसी को 27 प्रतिशत आरक्षण को यथावत रखने ब्लॉक कांग्रेस व पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ ने एडीएम को सौंपा ज्ञापन

प्
शाजापुर। ब्लॉक कांग्रेस ने शनिवार को कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर एडीएम को ज्ञापन सौंपा। जिसमें बताया कि प्रदेश की भाजपा सरकार अन्य पिछड़ा वर्ग को आरक्षण न देकर उनके साथ कुठाराघात किया जा रहा है। जबकि राज्य शासन ने पिछड़ा वर्ग केा आरक्षण के साथ ही पंचायत चुनाव कराने का आश्वासन दिया था, लेकिन अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की गई। जबकि नाम निर्देशन पत्र जमा करने की तिथि भी निकल चुकी है।
ब्लॉक कांग्र्रेस अध्यक्ष इरशाद खान के नेतृत्व में सौंपे गए ज्ञापन में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बताया कि संविधान के अनुच्छेद 243 डी के अनुच्छेद 243 डी के अंतर्गत अनुसूचित जाति, जनजाति के आबादी अनुसार आरक्षण का प्रावधान था। इन्हीं खण्डों के आधार पर आरक्षण को चक्रान्ह क्रम में जारी रखने की व्यवस्था है, लेकिन राज्य सरकार आरक्षण को चक्रान्ह क्रम से न करने की वजह से ओबीसी आरक्षण से अन्य पिछड़ा वर्ग को वंचित होना पड़ रहा है। जबकि पंचायती राज अधिनियम 1994 में अन्य पिछड़ा वर्ग को दिए गए 25 प्रतिशत आरक्षण, अनुसूचित जनजाति को 20 प्रतिशत और अनुसूचित जाति को 16 प्रतिशत आरक्षण के अनुसार ही पांच बार चुनाव हुए हैं। इसके बाद प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा पिछड़ा वर्ग के आरक्षण केा 25 से बढ़ाकर 27 प्रतिशत किया गया है। लेकिन भाजपा सरकार द्वारा आरक्षण न करना संविधान के अनुच्छेद 243 डी की व्यवस्था के विपरीत है। अतः कांग्रेस सरकार द्वारा 19994 में पारित पंचायत राज अधिनियम में अन्य पिछड़ा वर्ग को पूर्वानुसार दिए गए 27 प्रतिशत आरक्षण को पुनः लागू किया जाए। इस अवसर पर पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ अध्यक्ष सचिन पाटीदार, वरिष्ठ कांग्रेस नेता बालकृष्ण चतुर्वेदी, वीरेंद्र व्यास, महिला कंाग्रेस जिलाध्यक्ष स्मिता सोलंकी, सजीव त्रिवेदी, जिला महासचिव इरशाद नागौरी, राजवीरसिंह सिकरवार, जिला कांग्रेस प्रवक्ता पं. गोविंद शर्मा, अकील वारसी, विधायक प्रतिनिधि आशुतोष शर्मा, सीताराम पवैया, युवक कांग्रेस जिलाध्यक्ष जयंत सिकरवार, दीपक निगम, अल्पसंख्यक जिलाध्यक्ष वाजिद अली शाह, पूर्व पार्षद अकरम अली, सत्या वात्रे, सल्लेश चतुर्वेदी, विधानसभा अध्यक्ष शेख सलमान विनीत दीक्षित, महेंद्रसिंह सेंगर, प्रदीप रघुवंशी, धर्मेन्द्र प्रजापति सहित बड़ी संख्या में पार्टी पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।
लोकतंत्र की हत्या कर चुनाव करवा रही प्रदेश सरकार
ब्लॉक कांग्रेेस अध्यक्ष इरशाद खान ने बताया कि प्रदेश की राज्य सरकार तानाशाह तरीके से लोकतंत्र की हत्या कर तानाशाह तरीके से पंचायत चुनाव करवा रही है। जिससे पिछड़ा वर्ग के अधिकारों का हनन होने की शुरूआत इस चुनव से हो चुकी है। उन्होंने बताया कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने मांग की है कि किसी भी कीमत पर इस प्रदेश का यह चुनाव 27 प्रतिशत पिछड़ा वर्ग का आरक्षण यथावत रखे जाने और इसके बिना चुनाव न किए की मांग की है। उन्होंने बताया कि कांग्रेस पार्टी पिछड़ा वर्ग के अधिकारों के हितों का हनन नहीं होने देगी। उन्होंने कहा कि यह चुनाव इस देश के लिए कलंकित करने वाला चुनाव है। क्योंकि जिला पंचायत अध्यक्ष के आरक्षण की प्रक्रिया अभी तक नहीं हुई है। जबकि 20 तारीख फार्म जमा करने की तिथि निकल चुकी है।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

रेलयात्रियों के सूख रहे कंठ, बॉटल में भरकर बाहर भेजा जा रहा वाटर वेंडिंग मशीनों का पानी     |     छापामार कार्रवाई कर रसोई गैस के 14 सिलेंडर जब्त     |     बैरागढ़ सिविल अस्पताल में चिकित्सकों की कमी, इमरजेंसी कक्ष में नहीं मिलते डॉक्टर     |     ज्वेलरी शॉप मालिक को आया फोन, टूट गया है दुकान का शटर… जाकर देखा तो गायब थे 5 किलो चांदी के जेवर     |     बच्चों को कल पिलाई जाएगी पोलियो ड्राप, जागरूकता के लिए आसमान में लहराया बैलून     |     लक्ष्मीबाई का साथ देने पर अंग्रेजों ने राजघराने के खजांची अमरचंद बाठिया को सराफा बाजार में दी थी फांसी     |     इंदौर में छात्रा अंजलि की खुदकुशी के केस में पुलिस खाली हाथ, अब टैबलेट ही खोल सकता है कोई राज     |     डिंडौरी जिले में तेज बारिश के बीच झोपड़ी पर गिरी बिजली, मां और दो बच्चों की मौत     |     शिवराज चौहान के पुत्र कार्तिकेय बोले- आज हमारे नेता के सामने दिल्ली भी नतमस्तक, जीतू पटवारी ने कसा तंज     |     मां ने मासूम बेटी की चाकू मारकर की हत्या, फिर उसी के खून से दीवार पर लिखा- “मेरी मौत के जिम्मेदार…”     |