मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए समुचित उपाय करें- कलेक्टर श्री जैन,मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रम की समीक्षा

0 124

शाजापुर
—–
स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने के लिए समुचित उपाय करें। उक्त निर्देश कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला स्वास्थ्य समिति श्री दिनेश जैन ने आज मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रम अंतर्गत सी.डी.आर एवं एम.डी.आर की समीक्षा के दौरान दिये। इस मौके पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजू निदारिया, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रकाश पण्डित, जिला चिकित्सालय सिविल सर्जन डॉ. बीएस मैना, जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. सुमित यादव, स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ उमा परमार, एस.एन.सी.यू नोडल अधिकारी डॉ चेतन वर्मा, नोडल अधिकार एन.आर.सी डॉ उमेश गौतम, जिला कार्यक्रम प्रबंधक श्री लालसिंह, जिला आर.बी.एस.के समन्वयक सुश्री हिमांशी काले भी उपस्थित थी।

समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने गर्भवती महिलाओं के शीघ्र पंजीयन एवं समुचित मात्रा में दवाईयों एवं उपकरणों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। एमसीपी कार्ड को साफ साफ अक्षरो में भरने, शिशु एवं गर्भवती माताओं का ड्यू लिस्ट अनुसार टीकाकरण करने के निर्देश दिये। हाई रिस्क सम्भावित डिलेवरी की प्रतिदिन की सूची सूमन हेल्प डेस्क को भेजना सुनिश्चित करे ताकि मातृ एवं शिशु मृत्यु दर मे कमी लाई जा सकें। गर्भवती महिलाओं की सुक्ष्म एएनसी जांच सही तरीके से गुणवत्ता पूर्वक करने के लिए कहा। इसी प्रकार टीकाकरण मे हितग्राहियों को एमसीपी कार्ड मे अंकित 04 संदेश के लाभ बताकर आगामी ड्यू डेट से अवगत करने के लिए भी कहा। कलेक्टर ने कहा कि किन-किन कारणों से शिशुओं की मृत्यु हो रही है, इसका डाटा इकट्ठा करें। जिले में जिले की एवं अन्य जिलों से प्रसव के लिए आने वाली महिलाओं का डाटा अलग-अलग तैयार करें। प्रसव के लिए सर्जन की कमी होने पर निजी क्षेत्र के सर्जन की सेवाएं ली जा सकती है, इसके लिए एक रोस्टर बनाकर निजी क्षेत्र के चिकित्सकों को बुलाएं। मृत्यु दर कम करने के लिए एएनएम और आशा कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण दें। हाईरिस्क गर्भवती महिलाओं के लिए पहले से एएनएम को अलर्ट रहने के निर्देश दें। कलेक्टर ने कहा कि निजी क्षेत्रों के नर्सिंग होम या चिकित्सालयों में शिशु रोग विशेषज्ञ होना चाहिये। सीएमएचओ निजी चिकित्सालयों को शिशु रोग विशेषज्ञ रखने एवं स्वयं के एसएनसीयू डेवलप करने के लिए कहें।

एस.एन.सी.यू/एस.बी.एन.सी.यू, एन.आर.सी से डिस्चार्ज किये गये शिशुओ का फॉलोअप की सूची आर.बी.एस.के चिकित्सक दल से साझा करते हुये उनके द्वारा फॉलोअप जांच कराया जाना सुनिश्चित करें एवं प्रतिदिन किये गये फॉलोअप की रिपोर्ट भी भेजने के लिए कहें। संस्थागत प्रसव से डिस्चार्ज से शिशुओं की गृह भेंट जांच (एच.बी.एन.सी) आर.बी.एस.के चिकित्सक दल की देखरेख में कराने के निर्देश दिये।

कलेक्टर श्री जैन ने समस्त फालोअप का विकेन्द्रीकरण कर खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को आर.बी.एस.के दल के माध्यम से कराने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने सभी खण्ड चिकित्सा अधिकारियों को बाल विकास परियोजना अधिकारियों के साथ आंगनवाड़ी केन्द्रों का भ्रमण कर शिशुओं का फालोअप तथा गर्भवती माताओं का परीक्षण करने के निर्देश दिये।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 

एक्सन मोड़ में एसपी, सट्टा वालो पर बरपा कहर,लालघाटी थाना के दुपाड़ा में बड़ी कार्यवाही,चौकी प्रभारी भी निलंबित     |     नगरीय निकाय शहर के सुव्यवस्थित यातायात को प्राथमिकता दें- कलेक्टर श्री जैन     |     थाना नरसिंहगढ़, जिला राजगढ़,अड़ी बाजी कर पैसे मांगने वाले के विरुद्ध थाना नरसिंहगढ पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही*     |     स्कूलों के बस्ते का बोझ कम होगा, स्कूल बैग पॉलिसी का पालन सुनिश्चित करें- जिला न्यायाधीश एवं सचिव श्री राजेन्द्र देवड़ा     |     मां कनकेश्वरी के दरबार पहुंचे श्रद्धालू, चढ़ाई चुनरी – लगातार 9वें वर्ष निकली चुनरी यात्रा, दर्जनों स्थान पर हुआ स्वागत     |     अंतर्राष्ट्रीय वरिष्ठ नागरिक दिवस पर जिले के 83 शतायु मतदाताओं का सम्मान होगा,जिला प्रशासन ने जारी की सूची     |     कल अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन,प्राइवेट अस्पताल में भी निःशुल्क दी जाएगी सेवाएं     |     Shajapur नाबालिक के साथ बहलाफुसलाकर दुष्कर्म करने वाले को 20 वर्ष का सश्रम कारावास     |     अल्प प्रवास पर मक्सी नगर पहुंचे राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री राजपूत,समाजजनों ने जोरदार स्वागत किया     |     Shajapur पत्नि की हत्या करने वाले पति को आजीवन कारावास     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088