इस दिन इन चीज़ों का दान करना पड़ सकता है भारी, जानिए यहां

[ad_1]

माना जाता है हिंदू धर्म के संबंध रखने वाले लगभग व्यक्ति के लिए दीपावली का पर्व बेहद खास होता है। जो पूरे वर्षभर का एकमात्र ऐसा त्योहार माना जाता है जो चारों ओर रोशनी प्रकाशित करता है, इसकी रोशी से सारा वातावरण जगमगा जाता है।

धार्मिक ग्रंथों व शास्त्रों में इस दिन से जुड़ी कई मान्यताएं व किंवदंतियां जुड़ी हुई हैं। जिनमें काफी के बारे में हम आपको बता चुके हैं। अब आगे भी इस कड़ी को कायम रखते हुए हम आपको बताने जा रहे हैं कि कि दिवाली के दिन क्या करना चाहिए, क्या नहीं करना चाहिए। अक्सर देखा जाता इस दिन लोग दान आदि करने में काफी विश्वास रखते हैं, परंतु इस दौरान किन चीज़ों का दान करना चाहिए किन चीज़ों का नहीं इस बारे में बहुत कम लोग जानकारी रखते हैं। बता दें आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं कि दिवाली के दिन किन चीजों का दान करना अशुभ होता है।

दरअसल ज्योतिष शास्त्र में कुछ ऐसी वस्तुओं का वर्णन किया गया है। जिनको दिवाली के दिन भूलकर भी किसी को दान में नहीं देनी चाहिए। अगर आप इन चीजों को इस दिन दान करते हैं। तो देवी लक्ष्मी रुष्ट होकर आपके घर से चली जाती है। तो ऐसे में ये जान लेना अति जरूरी है कि दिवाली के दिन किन वस्तुओं का दान नहीं करना चाहिए।

यहां विस्तार से जानें इससे जुड़ी जानकारी-
धार्मिक दृष्टि के अनुसार, दिवाली के दिन झाड़ू का दान नहीं करना चाहिए। झाड़ू को मां लक्ष्मी का स्वरूप माना जाता है। और जैसा कि आप सभी जानते हैं दीपावली पर लक्ष्मी पूजन का बहुत महत्व होता है। तो ऐसे में दिवाली के दिन झाड़ू का दान करने से मां लक्ष्मी का घर में स्थायी वास नहीं होता है।

ज्योतिष शास्त्र की मानें तो दिवाली के दिन खिचड़ी का दान नहीं करना चाहिए। कहते हैं कि दीपावली के दिन न तो कच्चा खाना खाया जाता है और न ही उसका दान किया जाता है क्योंकि इससे आपके जीवन में गरीबी छाने लगती है।

1100 रुपए मूल्य की जन्म कुंडली मुफ्त में पाएं । अपनी जन्म तिथि अपने नाम , जन्म के समय और जन्म के स्थान के साथ हमें 96189-89025 पर वाट्स ऐप करें

बता दें कि दिवाली के दिन चावल और दूध से बनी वस्तुओं का भी दान नहीं करना चाहिए। मान्यता है कि सफेद वस्तुएं मां लक्ष्मी की प्रतीक होती हैं। तो ऐसे में भूलवश भी किसी को दूध से बनी चीजें दान में न दें।

इन वस्तुओं के अलावा मान्यताओं के अनुसार दिवाली के दिन किसी को धन का दान नहीं करना चाहिए। इसके बजाए कोई सामान या वस्तु खरीदकर दान की जा सकती है। लेकिन इस शुभ अवसर पर किसी को पैसों का दान करने से घर में दरिद्रता आने लगती है।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

विद्यार्थी अपने भविष्य के लिए पसंद का क्षेत्र चुने और मेहनत कर आगे बढ़े- कलेक्टर सुश्री बाफना     |     सनसनीखेज एवं जघन्य अपराधों के प्रकरणों की कलेक्टर एसपी ने की समीक्षा     |     जिले में कार्यरत समूहों को सहकारी समिति के रूप में पंजीकृत कराने के लिए प्रस्ताव तैयार करें- कलेक्टर सुश्री बाफना     |     प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी से मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने केन-बेतवा परियोजना के भूमिपूजन के लिए किया अनुरोध     |     संपदा पोर्टल पर रजिस्ट्री दर्ज होते ही तहसीलदार नामांतरण का प्रकरण दर्ज करें – राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये     |     Ujjain कविताएं और साहित्य हमे सिखातें है जीवन जीने का तरीका : कलेक्टर श्री नीरज कुमार सिंह     |     स्कूल पहुचने पर संभागायुक्त श्री गुप्ता को अपने बचपन की यादें ताजा हुई, छात्रों से द्रौणाचार्य के शिष्यों और पूर्व राष्ट्रपति मिसाईल मेन के बारे में प्रश्न पूछे, सेवा स्कूल में वाटर कूलर भेंट करने की घोषणा की     |     “स्कूल चले हम अभियान” के तहत उज्जैन SP ने की सहभागिता     |     इंदौर कलेक्टर बने शिक्षक, स्कूल चले अभियान के तहत कलेक्टर आशीष सिंह पहुंचे शासकीय स्कूल, कलेक्टर ने बच्चों को अनुशासन और मेहनत के साथ पढ़ाई के लिए किया प्रेरित     |     रील्स बनाकर इंटरनेट मीडिया पर छाई बुंदेलखंड के पहाड़गांव की बेटी     |