कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने सुंदरसी एवं पोलायखुर्द में स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण किया-दिए दिशा निर्देश,ग्रामीणो से मिले


संभावित कोरोना महामारी की तीसरी लहर से बचाव की आवश्यक तैयारियां करने के दिये निर्देश
—-
कलेक्टर श्री दिनेश जैन ने सुंदरसी एवं पोलायखुर्द के स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण कर संभावित कोरोना महामारी की तीसरी लहर से बचाव की आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। निरीक्षण के दौरान उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सुंदरसी में कोरोना मरीजों के लिए बनाए गए ऑक्सीजन सप्लाई से युक्त वार्ड का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने वार्ड में फ्लो मीटर के माध्यम से ऑक्सीजन चालू करवाकर देखी। यहां उन्होंने उपस्थित डॉक्टर को ऑक्सीजन सिलेंडर की संख्या बढ़ाने तथा डिस्टिल वाटर की मात्रा बढ़ाने, फ्लो मीटर बुलाने, खाली पड़े वार्ड में पर्याप्त बेड लगवाने, पानी की व्यवस्था करने सहित अन्य जरूरी आवश्यकताओं को पूरा करने के निर्देश दिये। इस दौरान उन्होंने ऑक्सीजन सिलेंडर कक्ष बनाने के निर्देश दिये। साथ ही उन्होंने दवाई वितरण कक्ष में जाकर दवाइयों की एक्सपायरी डेट की भी जाँच की। इस दौरान उन्होंने पैथोलॉजी लैब, प्रसूति वार्ड आदि का निरीक्षण भी किया। उन्होंने चिकित्सालय में साफ-सफाई रखने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने मौजूद स्टाफ से उनकी समस्याएं भी सुनी। इस दौरान यहां मौजूद स्टाफ नर्स ने बताया कि शासकीय आवास नहीं होने से उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस पर कलेक्टर श्री जैन ने नायब तहसीलदार को शासकीय आवास को स्टाफ नर्स के लिए आवंटित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने इलाज कराने आए मरीज से उसके स्वास्थ्य की जानकारी ली।

इसी तरह कलेक्टर श्री जैन ने आरोग्य प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पोलायखुर्द के जनरल वार्ड में बेड की संख्या बढ़ाने, ऑक्सीजन ट्रॉली, फ्लो मीटर, छोटे एवं बड़े सिलेंडर, पानी की पर्याप्त व्यवस्था रखने, चिकित्सालय के आसपास बाउंड्री वाल बनवाने के लिए कहा। यहां उन्होंने साफ-सफाई करने तथा सूचना पटल पर डॉक्टर का नंबर डिस्प्ले करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने नायब तहसीलदार को जीर्ण-शीर्ण आवासीय भवन को नष्ट करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने ग्रामीणों से कहा कि कोरोना महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। इसलिये ग्रामीणजन कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करें एवं अनिवार्य रूप से मास्क लगाएं तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। शादी-विवाह जैसे भीड़-भाड़ वाले कार्यक्रम नहीं करें। सर्दी-खांसी, बुखार के लक्षण होने पर तुरंत गांव के चिकित्सालय में डॉक्टर को दिखाएं। साथ ही कोरोना वैक्सीन का टीका अवश्य लगवाएं और टीका लगवाने के लिए किसी अन्य गांव में जाकर परेशान होने की आवश्यकता नहीं है, उनके गांव में ही कोरोना वैक्सीन का टीका लगाया जाएगा। यहां उन्होंने मौजूद ग्रामीणों से उनकी समस्याएं भी सुनी।

इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. राजू निदारिया, नायब तहसीलदार श्री अजय अहिरवार उपस्थित थे।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

महंगाई ने तोड़ा 15 महीनों का रिकॉर्ड, मई में पड़ी दोगुनी मार     |     भाजपा ने पूर्व कांग्रेस विधायक को अमरवारा विधानसभा उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया     |     UP में लगातार घटता जा रहा BJP का ग्राफ, यही रहा पैटर्न तो 2027 के लिए खतरे की घंटी     |     पति को छुट्टी न मिलने से नाराज पत्नी का अफसर पर फूट गया गुस्सा, जमकर पीटा..     |     छत्तीसगढ़: बारूदी सुरंग में विस्फोट, आईटीबीपी के दो जवान घायल     |     भिंड: दूषित पानी पीने से 2 लोगों की मौत, 84 को उल्टी दस्त की शिकायत, एक्टिव हुआ पीएचई विभाग     |     पुणे पोर्शे हिट एंड रन: रईसजादे के दोस्तों का खुलासा- पब में पी थी 90 हजार रुपये की शराब     |     मध्य प्रदेश के इस स्कूल में पढ़ने वाले छात्र बन जाते हैं तीनों सेनाओं में अफसर, आर्मी और नेवी चीफ भी यहीं से पढ़े     |     बछड़े का कटा सिर मंदिर में फेंका, हिंदू संगठनों ने किया बंद का ऐलान, तनाव का माहौल     |     यूपी के कांस्टेबल ने की गंदी हरकत, रोते-बिलखते SP के पास पहुंची छात्रा, सुनाई आपबीती     |