शाजापुर में जिला संकट प्रबंधन समूह की बैठक में वर्चुअली शामिल होकर राज्यमंत्री श्री परमार ने दिये निर्देश

शाजापुर
कोरोना वायरस कोविड-19 की रोकथाम एवं बचाव के लिए प्रदेशभर में 21 जून 2021 से प्रारंभ हो रहे टीकाकरण के महाअभियान में सबकी भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए वातावरण निर्मित करने की आवश्यकता है। यह बात प्रदेश के स्कूल शिक्षा (स्वतंत्र प्रभार) एवं सामान्य प्रशासन राज्यमंत्री व जिला कोरोना प्रभारी श्री Inder Singh Parmar ने आज जिला संकट प्रबंधन समूह की बैठक में वर्चुअल रूप से शामिल होकर कही। बैठक में कलेक्टर श्री दिनेश जैन एवं वर्चुअल रूप से ही पुलिस अधीक्षक श्री पंकज श्रीवास्तव, जिला पंचायत सीईओ श्रीमती मिशा सिंह, जिला संकट प्रबंधन समूह के सदस्य श्री अम्बाराम कराड़ा, पूर्व विधायक श्री अरूण भीमावद, श्री महेन्द्र धनगर, श्री किरणसिंह ठाकुर, श्री क्षितिज भट्ट, श्री शैलेन्द्र सोनी, सीएमएचओ डॉ. आर निदारिया, सीएमओ श्री भूपेन्द्र दीक्षित शामिल हुए।

राज्यमंत्री श्री परमार ने कहा कि 21 जून से पूरे देश में टीकाकरण अभियान चलाया जायेगा। हमारे प्रदेश में मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान के नैतृत्व में टीकाकरण का महाअभियान चलाया जायेगा। महाअभियान के दौरान टीका लगाने के लिए बनाए जाने वाले केन्द्रों में शतप्रतिशत टीकाकरण हो, इसके लिए पूर्व से वातावरण निर्माण करना आवश्यक है। वातावरण निर्माण के लिए सामाजिक कार्यकर्ता एवं प्रेरक टीकाकरण शुरू होने के पहले प्रात: 9.00 बजे पैदल अथवा साईकिल से भ्रमण कर लोगों को टीकाकरण के लिए जागरूक करें। उन्होंने कहा कि जिन ग्रामों के लोग भ्रम के कारण वैक्सीनेशन से डर रहे हैं, उनका भ्रम दूर करने के लिए गांव के प्रतिष्ठित लोगों एवं सामाजिक कार्यकर्ताओं को ले जाकर जागरूकता अभियान चलाएं। उन्होंने कहा कि कोरोना नियंत्रण के लिए कोविड अनुकूल व्यवहार की सख्त जरूरत है। किसी भी स्थान पर भीड़ नहीं बढ़ने दें। वैक्सीनेशन सेंटर पर भीड़ नियंत्रण के लिए पहले से व्यवस्था रखें। विभिन्न धर्मों के प्रमुखों एवं समाज के प्रमुखों को साथ लेकर वैक्सीनेशन के लिए प्रोत्साहन अभियान चलाएं। विकासखंड स्तरीय संकट प्रबंधन समूह के सदस्य टीकाकरण के महाअभियान में समन्वय का कार्य करें। आपस में दूरी बनाकर रखें। मास्क को हमारे जीवन का हिस्सा बनाएं और वैक्सीनेशन अवश्य कराएं।

इस अवसर पर कलेक्टर श्री जैन ने बताया कि टीकाकरण के महाअभियान के क्रियान्वयन के लिए जिले के शहरी क्षेत्रों में 12 एवं ग्रामीण क्षेत्रों में 20 इस प्रकार कुल 32 साईट बनायी जा रही है। 21 जून से शुरू होने वाले अभियान को 7 दिन तक चलायेंगे। इस दौरान प्रयास होगा कि 30 ग्राम पंचायतों में शतप्रतिशत वैक्सीनेशन हो। समाज के प्रमुख लोगों, शिक्षाविद् एवं प्रतिष्ठित व्यक्तियों के माध्यम से जागरूकता कार्यक्रम चलायेंगे। साथ ही इनका उपयोग वैक्सीनेशन में प्रेरक के रूप में भी किया जायेगा। टीकाकरण के महाअभियान के सफल क्रियान्वयन के लिए जोनल अधिकारी भी बनाए जा रहे हैं। कलेक्टर ने बताया कि ऐसे वृद्धजनों एवं अन्य व्यक्ति जो टीकाकरण केन्द्र तक नहीं आ सकते हैं, उनके लिए अनुभाग स्तर पर एक-एक मोबाईल वैन रखी जायेगी। इस अवसर पर पूर्व विधायक श्री भीमावद ने कहा कि संकट प्रबंधन समूह के सदस्य स्वयं मोटिवेशन के लिए आगे आए। श्री अम्बाराम कराड़ा ने सामाजिक जागरण के लिए कार्यकर्ताओं को लगाने की बात कही। इस अवसर पर श्री क्षितिज भट्ट, श्री किरण सिंह ठाकुर ने भी अपने विचार रखें।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

उज्जैन: सावन महीने में भस्म आरती और दर्शन व्यवस्था को लेकर महाकाल मंदिर समिति का बड़ा फैसला     |     कार के बोनट पर बैठकर स्टंट करना पड़ा महंगा, पुलिस ने की कार्रवाई     |     इंदौर में नाइट कल्चर बंद, नहीं खुल सकेंगे रात भर मॉल और दुकानें     |     पत्नी से अवैध संबंध के शक में की थी हत्या… अंधे कत्ल का ऐसे हुआ पर्दाफाश… पुलिस को जंगल में बोरे में बंद मिली थी लाश     |     मिमिक्री आर्टिस्ट ने लड़की बनकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर से ठगे 1 करोड़ 40 लाख रुपए, कभी गर्लफ्रेंड कभी ऑफिसर बनकर किया ब्लैकमेलबिलासपुर : छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में सॉफ्टवेयर इंजीनियर ड्रीमगर्ल की चाहत में ठगी का शिकार बन बैठा। जहां सॉफ्टवेयर इंजीनियर से 1 करोड़ 40 लाख रुपए की ठगी हो गई और खास बात यह कि ये ठगी एक मिमिक्री आर्टिस्ट ने की। मिमिक्री आर्टिस्ट ने लड़की की आवाज में सॉफ्टेवेयर इंजीनियर से बात की और शादी करने की बात कहकर फंसा लिया। इसके बाद फीमेल वॉइस में ब्लैकमेल कर पैसे वसूलता रहा। पूरा मामला सरकंडा थाना क्षेत्र का है। बिलासपुर SP रजनेश सिंह ने खुलासा करते हुए बताया कि सरकंडा निवासी नितिन जैन महाराष्ट्र के पुणे में सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। उसे शादी करने के लिए लड़की की तलाश थी। कुछ दिन पहले मध्यप्रदेश के मैहर का रोहित जैन अपने भाई से मिलने पुणे गया था। इसी दौरान नितिन रोहित से मिला। बातचीत में उसने बताया कि शादी के लिए उसे लड़की की तलाश है। बस इसी का फायदा उठाते हुए रोहित ने नितिन से मेल-जोल बढ़ाना शुरू कर दिया। उसने लड़की तलाशने की बात कहकर नितिन को अपने भरोसे में ले लिया और इसके बाद यह पूरा ठगी का खेल यही से शुरू हुआ। इसके बाद उसने इंटरनेट से तीन लड़कियों के फोटो निकालकर नितिन के पास भेज दिए। इसमें एक युवती को नितिन ने पसंद किया। रोहित ने उसका नाम एकता जैन बताया। फिर उसने खुद ही दूसरे नंबर से लड़की की आवाज में बात करनी शुरू कर दी। पहले उसने एकता बनकर अलग-अलग बहाने से लाखों रुपए ट्रांसफर कराए, फिर अलग-अलग सिम से खुद को एकता का भाई, जज और अधिकारी बनकर नितिन से बात की। इतना ही नहीं उसने नितिन को ब्लैकमेल कर 1 करोड़ 40 लाख रुपए वसूल लिए। बहुत परेशान परेशान होकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने पुलिस से शिकायत की। मामले की जांच करते हुए पुलिस आरोपी तक पहुंच गई और उसे मध्यप्रदेश के मैहर से गिरफ्तार कर लिया।लेकिन पूछताछ में आरोपी ने जो सच बताया वो बेहद हैरान कर देने वाला निकला। रोहित जैन ने बताया कि वह एक मिमिर्की आर्टिस्ट है। लिहाजा, वह आवाज बदलने में माहिर है। उसने पहले लड़की एकता जैन बनकर इंजीनियर रोहित से बात की तो नितिन शादी के लिए तैयार होने की बात कहते हुए उसे अपने झांसे में लिया। इसके बाद बीमार होने की बात कहते हुए उसने नितिन से 30 लाख रुपए और अलग-अलग अकाउंट में ट्रांसफर कराए। इसके बाद आरोपी ने अपना मनगढ़ंत कहानी का दूसरा पार्ट शुरू कर दिया और और आरोपी दूसरे पार्ट में आरोपी अंशुल जैन की भूमिका में आ गया और लड़की का ममेरा भाई बताकर नितिन से बातचीत शुरू की। साथ ही अपनी बहन की शादी कराने पारिवारिक सहमति बनाने में मदद करने की बात कही। इसी दौरान उसने शेयर मार्केट में नुकसान होने की बात कहते हुए नितिन से मदद मांगी। इसके बाद पारिवारिक समस्या और प्रॉपर्टी टैक्स भरने के बहाने बना-बनाकर 30 लाख रुपए ट्रांसफर भी करा लिए। अब यह कहानी यही नहीं रुकती है उसके बाद आरोपी रोहित ने पुणे जाकर फिर एक नई कहानी बनाई। उसने बताया कि एकता का परिवार हैदराबाद में रहता है। वहां पर उनकी प्रॉपर्टी है, जिसे बेचने के लिए हैदराबाद जाना है यहां पर उसने एकता के गिरफ्तार होने की बात कही। साथ ही बदली हुई आवाज में खुद को जज बताकर करीब 20 लाख की वसूली की। ये रकम उसने अलग-अलग अकाउंट में जमा कराई। आरोपी रोहित ने लड़की की आवाज में पहले ही नितिन को बताया था कि उसकी चेन्नई में प्रॉपर्टी है। इसके बाद उसने टैक्स अधिकारी बनकर बात की। उसने प्रॉपर्टी टैक्स जमा नहीं होने की बात कहते हुए एकता की गिरफ्तारी करने की बात कही। इससे बचने के लिए उसने तमिल, हिंदी और अंग्रेजी में बातचीत कर करीब 15 लाख रुपए वसूले। आरोपी रोहित ने बदली हुई आवाज में इंजीनियर को कॉल किया। उसने इंस्टट लोन ऐप के जरिए रकम अदायगी नहीं कर पाने की बात कही। साथ ही जांच एजेंसियों की नजर में होने का झांसा दिया। खुद ही मकान के नीचे खड़े रहकर मकान की तस्वीर ली और नितिन के मोबाइल पर भेजा। रोहित ने ED के अधिकारियों के आने का डर दिखाते हुए दरवाजा खोलने से मना किया। इस दौरान वह खुद बाहर से दरवाजे पर दस्तक देता रहा। डरे हुए नितिन ने उसके बताए खाते में 20 लाख रुपए जमा करा दिए। एसपी रजनेश सिंह ने इस पूरी कहानी से पर्दा उठाते हुए यह जानकारी दी कि आरोपी से पूछताछ में पता चला है कि आरोपी रोहित जैन स्कूल के समय से ही फिल्मी कलाकारों की नकल करता है। वह कई कलाकारों की आवाज अच्छी तरह से निकाल लेता है। इसके अलावा लड़कियों की आवाज में भी बात करता है। इसी हुनर का फायदा उठाते हुए उसने इंजीनियर से ठगी की। आरोपी आदतन सटोरिया है। वह ऑनलाइन बेटिंग ऐप पर दांव लगाता है। ठगी की रकम को उसने अलग-अलग ऑनलाइन बेटिंग प्लेटफॉर्म पर लगा दिया। इसमें से वह बड़ी रकम हार गया। उसने पुलिस को बताया कि हारने के बाद ठगी और ब्लैकमेलिंग के पैसों को सटोरियों के अलग-अलग अकाउंट में ट्रांसफर कराया। मामले में पुलिस ने करीब 40 बैंक अकाउंट फ्रीज कराए हैं। बैंक खातों से पीड़ित की रकम वापस कराने की भी कार्रवाई की जाएगी।     |     इंदौर में बंद हो सकता है नाइट कल्चर, सीएम मोहन ने दिए संकेत     |     वरिष्ठ नेता रघुनंदन शर्मा ने अपनी ही सरकार और पार्टी पर उठाए सवाल, कांग्रेस बोली- उन्होंने भाजपा को आईना दिखा दिया     |     दमोह में आकाशीय बिजली गिरने से पति-पत्नी की हुई दर्दनाक मौत ,एक की हालत गंभीर     |     मनचलों की प्रताड़ना से परेशान महिला ने की आत्महत्या, जांघ पर लिखे 3 लोगों के नाम     |     ग्वालियर में भीषण सड़क हादसा ट्रक ने बाइक में मारी टक्कर, बहन-भाई और भांजे की दर्दनाक मौत..     |