17 मई तक का समय अत्यन्त निर्णायक, जिले में घट रही है पॉजिटिविटी दर, लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवायें सभी एसडीएम -कलेक्टर

उज्जैन 09 मई। रविवार को बृहस्पति भवन में कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जिले के सभी अनुविभाग के एसडीएम के साथ बैठक की। कलेक्टर ने कहा कि जिले में कोरोना संक्रमण की पॉजिटिविटी दर घटने लगी है , हम निर्णायक दौर में हैं ।17 मई तक का समय अत्यंत ही महत्वपूर्ण है , इस दौरान कोरोनावायरस को पूरी ताकत से रोकने के प्रयास करना होंगे। बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्री अंकित अस्थाना, सीएमएचओ डॉ.महावीर खंडेलवाल, महिला बाल विकास विभाग के श्री गौतम अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी सुश्री रमा नाहटे, अन्य अधिकारीगण मौजूद थे। कलेक्टर ने बैठक में निम्नलिखित निर्देश सभी एसडीएम को दिये :-

· 17 मई तक का समय अत्यन्त निर्णायक है। सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्रों में लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवायें। इस दौरान शादी और अन्य कार्यक्रमों पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाया जाये।

· किसी भी प्रकार की छूट नहीं दी जाये।

· एसडीएम गली-मोहल्ले में क्लिनिक चलाने वाले क्वालिफाइड डॉक्टर्स के साथ समन्वय स्थापित करें।यह सुनिश्चित किया जाए कि इन डॉक्टरों के द्वारा सर्दी-खांसी के मरीजों का उपचार शासन द्वारा जारी गाईड लाइन के अनुसार ही किया जाये।

· अन्तिम संस्कार में भी लोगों की संख्या पर ध्यान रखें। विशेष सख्ती बरती जाये।

· ग्रामीण क्षेत्रों में सचिव, कोटवार, रोजगार सहायक आदि के माध्यम से आयोजित होने वाले वैवाहिक कार्यक्रमों पर कड़ी नजर रखी जाये।

· कलेक्टर ने बैठक में सभी एसडीएम से उनके क्षेत्रों में हॉटस्पॉट और दवाओं की किट के वितरण की समीक्षा की।

· एसडीएम नागदा द्वारा बताया गया कि नागदा में दवाओं का वितरण प्रभावी रूप से किया जा रहा है।

· बड़नगर में भी सर्वे का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड की क्षमता बढ़ रही है।

· कलेक्टर ने कहा कि सभी अनुविभागों में दो सर्वे अब तक हो चुके हैं। तीसरे सर्वे में नये हॉटस्पॉट नहीं बनना चाहिये।

· लॉकडाउन के बावजूद यदि कहीं शादी या अन्य कार्यक्रम की सूचना मिले तो सम्बन्धित की गिरफ्तारी करवाई जाये। घर में पांच लोगों में भी शादी नहीं करवाई जायेगी।

· समस्त एसडीएम किसी भी प्रकार के दबाव में न आते हुए लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवायें। किसी भी तरह की छूट न दें।

· कोरोना के कारण यदि मृत्यु होती है तो डेड बॉडी को घर न भेजा जाये।

· कलेक्टर ने कहा कि सभी तहसीलों में आने वाले दिनों में मेडिकल किट और अधिक से अधिक संख्या में उपलब्ध करवाई जायेगी।

· कलेक्टर ने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ना बेहद जरूरी है।

· ग्रामीण क्षेत्रों में आने वाले दिनों में अक्षय तृतीय तथा अन्य पर्वों पर विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिए।

· गांव के मोहल्लों में भी कोविड हेल्प सेन्टर स्थापित किये जायें।

· कलेक्टर ने सभी एसडीएम को निर्देश दिये कि हाल ही में जारी अस्पताल बेड वाली हेल्पलाइन के वाट्सअप ग्रुप को उनके द्वारा नियमित रूप से चेक किया जाये।

· आने वाले दिनों में बढ़ने वाले किसी भी त्यौहार, पर्व, मांगलिक कार्यक्रम पर किसी भी तरह की छूट न दी जाये। यदि कोई इसका उल्लंघन करता है तो उसे जेल भेजा जाये।

· सर्वे के कार्य में और गति लाने के निर्देश दिए है ।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

महंगाई ने तोड़ा 15 महीनों का रिकॉर्ड, मई में पड़ी दोगुनी मार     |     भाजपा ने पूर्व कांग्रेस विधायक को अमरवारा विधानसभा उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया     |     UP में लगातार घटता जा रहा BJP का ग्राफ, यही रहा पैटर्न तो 2027 के लिए खतरे की घंटी     |     पति को छुट्टी न मिलने से नाराज पत्नी का अफसर पर फूट गया गुस्सा, जमकर पीटा..     |     छत्तीसगढ़: बारूदी सुरंग में विस्फोट, आईटीबीपी के दो जवान घायल     |     भिंड: दूषित पानी पीने से 2 लोगों की मौत, 84 को उल्टी दस्त की शिकायत, एक्टिव हुआ पीएचई विभाग     |     पुणे पोर्शे हिट एंड रन: रईसजादे के दोस्तों का खुलासा- पब में पी थी 90 हजार रुपये की शराब     |     मध्य प्रदेश के इस स्कूल में पढ़ने वाले छात्र बन जाते हैं तीनों सेनाओं में अफसर, आर्मी और नेवी चीफ भी यहीं से पढ़े     |     बछड़े का कटा सिर मंदिर में फेंका, हिंदू संगठनों ने किया बंद का ऐलान, तनाव का माहौल     |     यूपी के कांस्टेबल ने की गंदी हरकत, रोते-बिलखते SP के पास पहुंची छात्रा, सुनाई आपबीती     |