ऑक्सिजन की कमी से 5 मरीजों की मृत्यु की खबर पूर्णत: गलत- कलेक्टर

0 556

उज्जैन 08 अप्रैल। कलेक्टर श्री आशीष सिंह ने जानकारी दी कि माधवनगर अस्पताल में ऑक्सिजन की कमी से पाँच मरीजों की मृत्यु की खबर पूर्णत: गलत तथा भ्रामक है।

माधवनगर अस्पताल में अभी भी लगभग 132 मरीज उपचार करा रहें हैं। इनमें से 100 से अधिक मरीज ऑक्सिजन पर निर्भर होकर ईलाज करा रहें हैं। एक मरीज की भी मृत्यु ऑक्सिजन की कमी से नहीं हुई है। सभी को ऑक्सिजन की पूर्ति सिंगल लाईन से करी जाती है। अत: ऑक्सिजन की कमी से 5 मरीजों की मृत्यु का प्रश्न ही उत्पन्न नहीं होता है। माधवनगर अस्पताल में पिछले 24 घण्टे में 1 सैकण्ड के लिए भी ऑक्सिजन की आपूर्ति बंद नहीं हुई है।

कलेक्टर श्री सिंह ने अपील की है कि इस प्रकार की भ्रामक तथा जनता में डर उत्पन्न करने वाली खबरों को सोशल मीडिया पर चलाने से पहले तथ्यों की जाँच अवश्य कर लें। यदि कोई व्यक्ति इस प्रकार की अफवाहें सोशल मीडिया पर फॉरवर्ड करेगा तो उसके विरूद्ध धारा-188 तथा महामारी अधिनियम के तहत आपराधिक प्रकरण दर्ज कराया जाएगा।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 

ग्रामीण क्षेत्रों की आबादी में आवासीय जमीन का मालिकाना अधिकार पत्र दिया जायेगा- कलेक्टर श्री जैन     |     शाजापुर की सरस्वती विद्या मंदिर दुपाड़ा मार्ग पर गणतंत्र दिवस का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया     |     Video -शाजापुर में गणतंत्र दिवस पर, मक्सी, बेरछा, कोतवाली, मोहन बडोदिया टीआई नप,cmo, cmho, आबकारी अधिकारी सहित कई हुए सम्मानित     |     शाजापुर में राज्यमंत्री श्री यादव ने ध्वजारोहण कर सलामी ली , 73 वॉ गणतंत्र दिवस हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया     |     शाजापुर जिले में आज 28 कोरोना पाजीटिव मरीज मिले     |     Breking बेरछा पुलिस को मिली बड़ी सफलता,पूछताछ में स्मेक खरीदने,बेचने वाले 4 आरोपी ओर हुए नामजद,3 गिरफ्तार     |     Video गणतंत्र दिवस समारोह के लिए फाईनल रिहर्सल,तहसीलदार श्री राजाराम करजरे ने मुख्य अतिथि बनकर परेड की सलामी ली,कलेक्टर एसपी रहे मौजूद व्यवस्था देखी     |     संभागायुक्त ने अधिकारी एवं कर्मचारियों के निजी चिकित्सा प्रतिपूर्ति की कार्योत्तर स्वीकृति की बैठक ली, 251 चिकित्सा प्रतिपूर्ति की समीक्षा की गई     |     लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत समय-सीमा में आवेदन-पत्रों का निराकरण नहीं करने पर कलेक्टर ने 10 नायब तहसीलदार एवं तहसीलदारों पर व एक मुख्य नगर पालिका अधिकारी पर ढाई-ढाई सौ रुपये का जुर्माना किया     |     नापतौल विभाग द्वारा विशेष जांच अभियान के तहत प्रकरण पंजीबद्ध     |    

Don`t copy text!