कृषकों की खरीफ 2020 की ऋण देय की अंतिम तिथि बढ़ाकर 30 अप्रैल 2021 की गई, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने होली पर कृषकों को दी एक और नई सौगात

0 94

उज्जैन 26 मार्च। सहकारिता मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया के अनुरोध पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा खरीफ, 2020 के ऋणों की अदायगी के लिए अंतिम तिथि 28 मार्च, 2021 से बढ़ाकर 30 अप्रैल, 2021 कर दी गई है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अवधि बढ़ाकर प्रदेश के किसानों को एक बड़ी सौगात दी है। प्रदेश के कृषकों की खरीफ में सोयाबीन एवं अन्य फसलों का उत्पादन बिगड़ने के कारण कृषक 28 मार्च 2021 पर अपने खरीफ 2021 के ऋण की अदायगी करने में सक्षम नहीं थे। इससे अंतिम तिथि पर ऋण की अदायगी न होने के कारण कृषकों का ऋण वितरण से अंतिम तिथि पर 7 प्रतिशत तथा 28 मार्च 2021 से 13 प्रतिशत व्याज का भार आता। तिथि बढ़ जाने से किसानों को शून्य प्रतिशत पर ऋण सुविधा जारी रहेगी।

मंत्री डॉ. अरविंद सिंह भदौरिया ने प्रदेश के कृषक हितैषी मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह के कृषकों की ओर से धन्यवाद व्यक्त किया है। श्री भदौरिया ने कृषक भाइयों से अपील की है कि वे अपने खरीफ ऋणों की अदायगी 30 अप्रैल 2021 के पूर्व जमा कर कालातीत होने से बचे और शासन की शून्य प्रतिशत ब्याज दर पर अल्पावधि फसल ऋण का लाभ लेते हुए, अपनी समृद्धि में उत्तरोत्तर वृद्धि करें।

क्रमांक 1043 एचएस शर्मा/जोशी

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
टेलीग्राम- https://t.me/joinchat/4W4DvoQVkllmMGQ1
  ट्विटर- https://twitter.com/KhanMaksi
Leave A Reply

Your email address will not be published.

शाजापुर मंडी भाव 22 सितम्बर2021     |     Video शाजापुर प्रथम दौरे पर आए आईजी,एसपी,एएसपी ने की अगवानी, अधिकारियों की ली बेठक,दिए निर्देश,     |     शाजापुर मंडी भाव     |     आगर मंडी के भाव     |     बिना परमिट के संचालित एक बस जप्त, 25 हजार से अधिक का राजस्व वसूला     |     जनसुनवाई प्रारम्भ हुई, कलेक्टर ने आम आदमी की समस्याओं को सुना और निराकरण के निर्देश दिये     |     देवास जिले में राज्‍य शासन के निर्देशानुसार पुन: शुरू हुई जनसुनवाई     |     कृषि विज्ञान केन्द्र, शाजापुर में 25 वीं वैज्ञानिक सलाहकार समिति की बैठक सम्पन्न     |     कलेक्टर ने लोगों की समस्याएं सुनी शाजापुर में जनसुनवाई में 47 आवेदन प्राप्त     |     शाजापुर कलेक्टर ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से 8 ग्राम पंचायतों से चर्चा     |