नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया जिला मुख्यालय पर संपन्न हुए कार्यक्रम में गणमान्य नागरिको ने भी भाग लिया

शाजापुर, 23 जनवरी 2021/ नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती को पराक्रम दिवस के रूप में मनाया गया। जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में संपन्न हुए कार्यक्रम में कलेक्टर श्री दिनेश जैन, अपर कलेक्टर श्रीमती मंजूषा विक्रांत राय सहित श्री अम्बाराम कराड़ा, पूर्व विधायक श्री अरूण भीमावद, श्री संतोष जोशी, श्री हरिओम गोठी, श्री नवीन राठौर, श्री चंदरसिंह सौराष्ट्रीय, श्री आशीष नागर, श्री किरणसिंह ठाकुर, पूर्व नगरपालिका उपाध्यक्ष श्री मनोहर विश्वकर्मा, श्री सोनू गवली सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। सभी अतिथियों ने सर्वप्रथम नेताजी सुभाष चंद्र बोस के चित्र पर माल्‍यार्पण किया।

इस अवसर पर श्री कराड़ा ने संबोधित करते हुए कहा कि भारत की आजादी में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस का अतुल्य योगदान है। नेताजी ने विपरीत परिस्थितियों में भी इतिहास बनाया। आजाद हिंद सेना का गठन कर नेताजी ने भारत की आजादी की लड़ाई लड़ी। इस मौके पूर्व विधायक श्री भीमावद ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस के जीवन पर प्रकाश डाला। कलेक्टर श्री जैन ने नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की विचारधारा के बारे में बताते हुए कहा कि वे कुशाग्र बुद्धि से परिपूर्ण थे। ब्रिटिश सरकर की आईसीएस परीक्षा पास करने के बाद भी उन्होंने भारत की आजादी के लिए सबकुछ त्याग दिया। उन्होंने कहा कि सभी को नेताजी के राष्ट्रप्रेम से प्रेरणा लेनी चाहिये। इस मौके पर नेताजी सुभाष चन्द्र बोस से संबंधित फिल्म के अंश भी दिखाए गए। उल्लेखनीय है कि भारत शासन ने नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती को प्रतिवर्ष पराक्रम दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

रेलयात्रियों के सूख रहे कंठ, बॉटल में भरकर बाहर भेजा जा रहा वाटर वेंडिंग मशीनों का पानी     |     छापामार कार्रवाई कर रसोई गैस के 14 सिलेंडर जब्त     |     बैरागढ़ सिविल अस्पताल में चिकित्सकों की कमी, इमरजेंसी कक्ष में नहीं मिलते डॉक्टर     |     ज्वेलरी शॉप मालिक को आया फोन, टूट गया है दुकान का शटर… जाकर देखा तो गायब थे 5 किलो चांदी के जेवर     |     बच्चों को कल पिलाई जाएगी पोलियो ड्राप, जागरूकता के लिए आसमान में लहराया बैलून     |     लक्ष्मीबाई का साथ देने पर अंग्रेजों ने राजघराने के खजांची अमरचंद बाठिया को सराफा बाजार में दी थी फांसी     |     इंदौर में छात्रा अंजलि की खुदकुशी के केस में पुलिस खाली हाथ, अब टैबलेट ही खोल सकता है कोई राज     |     डिंडौरी जिले में तेज बारिश के बीच झोपड़ी पर गिरी बिजली, मां और दो बच्चों की मौत     |     शिवराज चौहान के पुत्र कार्तिकेय बोले- आज हमारे नेता के सामने दिल्ली भी नतमस्तक, जीतू पटवारी ने कसा तंज     |     मां ने मासूम बेटी की चाकू मारकर की हत्या, फिर उसी के खून से दीवार पर लिखा- “मेरी मौत के जिम्मेदार…”     |