अवैध परिवहनकर्ताओं पर रहेगी खनिज के साथ प्रशासन की नजर -शाजापुर जिले में 42 में से 26 खदानों पर लगेंगे चैक पोस्ट, बगैर रॉयल्टि वाले वाहनों पर होगी चालानी कारर्वाई

– राजस्व बढ़ाने प्रषासन ने उठाए कदम, जारी किए आदेश

शाजापुर। खनिज संपदा को बचाने और खनिज माफियाओं पर नकेल कसने के लिए प्रदेश शासन ने रेत खदानो को ठेके पर देने का निर्णय लिया है। जहां ठेकेदार के साथ-साथ प्रशासनिक अधिकारी भी इनकी निगरानी करेंगे। रजिस्टर्ड ठेकेदार ही रेत का या खनिज संपदा का भंडारण और परिवहन कर सकेंगे। यदि इसके अलावा कोई अन्य व्यक्ति इसका दोहन करते हैं तो प्रशासन द्वारा चालानी कारर्वाई की जाएगी। वहीं चैक पोस्ट भी लगाए जाएंगे ताकि कोई बिना रॉयल्टि के खनिज संपदा का अवेैध परिवहन न कर सके।
गौरतलब है जिले में खनिज की 42 खदाने हैं। इनमें से फिलहाल 26 खदानों पर चेक पोस्ट लगाने के निर्देश दिए गए हैं। यहां से यदि कोई बिना रॉयल्टि के वाहन ले जाता है तो उसके खिलाफ चालानी कारर्वाई की जाएगी। साथ ही कड़ी कारर्वाई भी की जाएगी। वहंीं इन रेत खदानों पर जहां ठेकेदार तो निगरानी करेंगे ही। खदानों के प्रभारी अधिकारी का दायित्व संबंधित एसडीएम रहेंगे जिनकी देखरेख में इन चेक पोस्ट का संचालन होगा।
रजिस्टर्ड ठेकेदार को होगा भंडारण का अधिकार
खनिज अधिकारी आरके उईके ने बताया कि प्रशासन द्वारा शाजापुर जिले की 42 रेत खदानों का ठेका 1 करोड़ 75 लाख में ठेकेदार आशीष श्रोत्रिय को दिया गया है जो तीन साल के लिए अनुबंधित हैं। इनके अलावा जिले में कहीं भी कोई व्यक्ति रेत का भंडारण नहीं कर सकेगा और न ही विक्रय कर सकेगा। यही वजह है कि फिलहाल 42 में से 26 रेत खदानों पर चेक पोस्ट लगाने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि इन चैक पोस्ट पर ठेकेदार के व्यक्ति तो निगरानी करेंगे ही। साथ ही प्रशासन का अमला भी इनका सहयोग करेगा और वाहनों की जांच की जाएगी और बिना रॉयल्टि के पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कारर्वाई की जाएगी।
राजस्व में हो वृद्धि, सुरक्षित रहे खनिज संपदा
प्रषासन की मंषा है कि राजस्व में वृद्धि हो और बिना रॉयल्टि के खनिज संपदा का दोहन न हो। इसके लिए यह निर्णय लिया गया है। क्योंकि कुछ समय पहले खनिज माफियाओं द्वारा खनिज अधिकारियों पर हमले की खबरे सुनने में आ रही थी। जिसके चलते प्रशासन द्वारा इन खदानों पर ठेके पर देने का निर्णय लिया गया है। यहां केवल ठेकेदार ही नही बल्कि एसडीएम और अन्य अधिकारी भी इन खदानों की सुरक्षा का जिम्मा संभालेंगे। यदि अब कोई खनिज माफिया किसी अधिकारी पर हमला करता है या उसे ठेस पहुंचाता है तो उसके खिलाफ सख्त कारर्वाई भी की जाएगी।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

नीमच जिले में राजस्व_महा_अभियान का हुआ शुभारंभ , विधायक एवं कलेक्‍टर ने ग्रामीणों की राजस्‍व संबंधी समस्‍याओं का किया समाधान     |     राजस्व प्रकरणों के त्वरित निराकरण के लिए इंदौर जिले में हुआ अभियान प्रारंभ.राजस्व अभिलेख में इंद्राज त्रुटियों को ठीक करने के भी होंगे कार्य.     |     भिक्षुकों को भिक्षा देने या उनसे कोई सामान खरीदने वालों के विरूद्ध होगी दण्डनीय कार्यवाही. इंदौर कलेक्टर ने जारी किए प्रतिबंधात्मक आदेश     |     कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री आशीष सिंह द्वारा तीन आरोपियों को चोर बाजारी निवारण और अत्यावश्यक वस्तु अधिनियम के तहत जेल भेजने की कार्रवाई का मंत्रणा बोर्ड ने किया अनुमोदन.     |     डिजास्टर मैनेजमेंट प्रोग्राम अंतर्गत बाढ़ और आपदा राहत से बचाव का डेमोस्ट्रेशन दिया, लखुंदके पलटी नाव ओर कैसे उसमे बैठे लोगों को बचाया देखे वीडियो     |     शाजापुर जिले के सरकारी स्कूलों के शिक्षकों की होगी “परीक्षा” – कलेक्टर ने दिए निर्देश     |     जिला स्तरीय निगरानी समिति की बैठक संपन्न,कलेक्टर सुश्री बाफना ने कहा एफपीओ शासन की योजनाओं की जानकारी दें-     |     कृषि एवं किसानों से संबंधित विभागों के कार्यों की समीक्षा,योजनाओं के ब्रोशर बनाकर प्रचार-प्रसार करें – कलेक्टर सुश्री बाफना     |     युवाओं की राजनीति में बढ़ती रुचि देश व समाज हित में- रितेश तिवारी     |     सांप के डसने से भाई-बहन की मौत, परिवार में मची चीख पुकार     |