काले गेहूँ की खेती ने बदली किसान की किस्मत 5 हेक्टेयर के खेत से 13 लाख रूपये की शुद्ध आय

शाजापुर, 21 अगस्त 2020/ अधिकतर किसान परम्परागत खेती पर ज्यादा विश्वास करते हैं, किन्तु शाजापुर जिले के शुजालपुर विकासखण्ड के ग्राम खेड़ी मण्डलखा निवासी श्री शरद भण्डावद हमेशा कुछ नया करने की सोच के साथ खेती करते हैं। श्री भण्डावद ने ऐसी मिसाल कायम की कि अब हर किसान उनसे उन्नत खेती की प्रेरणा ले रहे हैं। श्री भण्डावद ने परम्परागत खेती से हटकर 5 हेक्टेयर क्षेत्र में काले गेहूँ बोया और 325 क्विंटल गेहूँ का उत्पादन पाया इससे उसने लगभग 13 लाख रूपये की शुद्ध आय अर्जित की।

श्री भण्डावद बताते हैं ‍कि उन्होंने विगत दिनों इन्दौर में जौ एवं गेहूँ विषय पर संपन्न्‍ हुए प्रशिक्षण में भाग लिया था। इसमें राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय वैज्ञानिक उपस्थित थे। कृषि वैज्ञानिक डॉ. मोनिका गर्ग से चर्चा कर उन्होंने उनकी प्रेरणा से नाबी-1 काला गेहूँ लगाने का मन बनाया। इसके लिए उन्होंने पंजाब के नाबी से 5 हेक्टेयर रकबे के लिए 10 हजार रूपये प्रति क्विंटल की दर से बीज मंगवाया। श्री भण्डावद ने 5 हेक्टेयर क्षेत्र में इस बीज की बुआई की, जिससे उसे 65 क्विंटल प्रति हेक्टेयर की दर से कुल 325 क्विंटल गेहूँ का उत्पादन प्राप्त हुआ। गेहूँ की ग्रेडिंग के पश्चात उच्च गुणवत्ता का 300 क्विंटल गेहूँ 5000 रूपये प्रति क्विंटल की दर से विक्रय कर दिया। इससे उन्हें कुल 15 लाख रूपये प्राप्त हुए, जिसमें से लागत एवं मजदूरी कुल 2 लाख रूपये घटाने के पश्चात 13 लाख रूपये की शुद्ध आमदनी हुई।

काले गेहूँ की पौष्टिकता

काला गेहूँ, साधारण गेहूं की तुलना में 4 गुना ज्यादा गुणवत्ता वाला है। इसकी खास बात है कि यह गेहूं पौष्टिक होने के साथ-साथ इसमें कई औषधीय गुणों की मात्रा पाई जाती है, जो कि कैंसर, ब्लड प्रेशर, मोटापा, शुगर समेत कई बीमारियों से लड़ने की क्षमता प्रदान करता है। इस गेहूँ में जिंक एवं आयरन, एन्थ्रो ऑक्सीजन की मात्रा साधारण गेहूँ से 15 से 20 गुना अधिक होती है। यह शरीर में उपस्थित विषेले तत्वों को बाहर करता है। शुगर की मात्रा कम होने से यह शुगर के रोगियों के लिए लाभदायक है।

श्री भण्डावद उनकी सफलता का श्रेय कृषि विज्ञान केन्द्र के कृषि वैज्ञानिकों एवं कृषि विभाग के अधिकारियों को देते हैं। इनसे प्राप्त तकनीकि मार्गदर्शन के आधार पर ही यह सफलता हासिल हुई है। वे बताते हैं कि आत्मा के तहत समय-समय पर होने वाली सभी गतिविधियों में भाग लेते हैं और तकनीकि जानकारी प्राप्त करते हैं।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

जन अभियान बना, हरा भरा कालापीपल अभियान विधायक निवास पर हुई बैठक,संकल्प लिया,10 हजार से ज्यादा पौधे निशुल्क बाटेंगे     |     महंगाई ने तोड़ा 15 महीनों का रिकॉर्ड, मई में पड़ी दोगुनी मार     |     भाजपा ने पूर्व कांग्रेस विधायक को अमरवारा विधानसभा उपचुनाव में प्रत्याशी बनाया     |     UP में लगातार घटता जा रहा BJP का ग्राफ, यही रहा पैटर्न तो 2027 के लिए खतरे की घंटी     |     पति को छुट्टी न मिलने से नाराज पत्नी का अफसर पर फूट गया गुस्सा, जमकर पीटा..     |     छत्तीसगढ़: बारूदी सुरंग में विस्फोट, आईटीबीपी के दो जवान घायल     |     भिंड: दूषित पानी पीने से 2 लोगों की मौत, 84 को उल्टी दस्त की शिकायत, एक्टिव हुआ पीएचई विभाग     |     पुणे पोर्शे हिट एंड रन: रईसजादे के दोस्तों का खुलासा- पब में पी थी 90 हजार रुपये की शराब     |     मध्य प्रदेश के इस स्कूल में पढ़ने वाले छात्र बन जाते हैं तीनों सेनाओं में अफसर, आर्मी और नेवी चीफ भी यहीं से पढ़े     |     बछड़े का कटा सिर मंदिर में फेंका, हिंदू संगठनों ने किया बंद का ऐलान, तनाव का माहौल     |