हैरिटेज ट्रेन तक पहुंचना होगा आसान, महू-पातालपानी के बीच ब्रॉडगेज लाइन पर हुआ स्पीड ट्रायल

महू। महू तहसील में पातालपानी से प्राकृतिक सौंदर्य की यात्रा कराने वाली हैरिटेज ट्रेन शुरू होने वाली है, लेकिन पातालपानी जाने के लिए कोई साधन नहीं है। इसके लिए महू से पातालपानी तक मीटरगेज लाइन को ब्रॉडगेज में बदलने का कार्य किया जा रहा है। महू से पातालपानी स्टेशन पर बनने वाले प्लेटफार्म के पहले तक ट्रैक डालने का कार्य पूरा हो चुका है।

इस हिस्से में रविवार को रेलवे अधिकारियों द्वारा पातालपानी से डॉ. आंबेडकर नगर स्टेशन तक पांच किलोमीटर के ट्रैक पर 110 किमी की गति से डीजल लोको इंजन चलाकर स्पीड ट्रायल किया गया। ट्रायल में डीजल लोको ने पांच मिनट में पातालपानी के करीब से महू स्टेशन तक की दूरी तय की।

अब ट्रैक पर रेल संरक्षा आयुक्त द्वारा निरीक्षण किया जाएगा। इसके बाद महू-पातालपानी के बीच ब्रॉडगेज ट्रैक पर ट्रेन चलाई जाएगी। डॉ. आंबेडकर नगर से सनावद तक गेज कन्वर्जन का कार्य किया जा रहा है। इसमें डॉ. आंबेडकर नगर से पातालपानी रेलवे स्टेशन भी ब्रॉडगेज ट्रैक डाला गया है। इसका कार्य अभी शत प्रतिशत पूरा नहीं हुआ है।

रेलवे ने ट्रेन के स्पीड ट्रायल की ड्रोन कैमरों से की वीडियोग्राफी

पातालपानी में ब्रॉडगेज लाइन पर ट्रेन के स्टापेज के लिए प्लेटफार्म तो तैयार कर लिया गया है, परंतु प्लेटफार्म तक ट्रैक पूरी तरह नहीं लगाया गया है। रविवार को पश्चिम रेलवे मंडल के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी विनीत गुप्ता सहित अन्य अधिकारियों ने ट्रैक पर 110 किमी रफ्तार से डीजल लोको चलाकर ट्रैक का निरीक्षण किया।

इसके लिए पातालपानी स्टेशन के पास चौरड़िया की ओर से रविवार शाम 5.09 बजे डीजल लोको रवाना हुआ। यह 110 किमी की रफ्तार से शाम 5.14 बजे यानी पांच मिनट में महू पहुंचा। रेलवे द्वारा किए गए स्पीड ट्रायल की तीन ड्रोन कैमरों से वीडियोग्राफी भी की गई है।

पातालपानी स्टेशन पहुंचने का मिलेगा साधन

मानसून में महू के पातालपानी रेलवे स्टेशन से कालाकुंड तक हैरिटेज ट्रेन का संचालन किया जाता है जिसमें यात्रियों को पहाड़, घाट, नदी और कई तरह के सुंदर प्राकृतिक दृश्य देखने को मिलते हैं। पहले यह हैरिटेज ट्रेन महू से संचालित की जाती थी। गेज कन्वर्जन कार्य के कारण इसका संचालन पातालपानी रेलवे स्टेशन से किया जाता है।

हैरिटेज में यात्रा करने वाले यात्रियों को इसके लिए पहले महू आना पड़ता है, परंतु महू से पातालपानी क जाने के लिए कोई साधन नहीं मिलता। इस कारण यात्रियों को ज्यादा रुपये देकर ऑटो रिक्शा से स्टेशन जाना पड़ता था।

अब महू से पातालपानी तक ब्रॉडगेज का कार्य पूरा होने पर इस हिस्से में ट्रेन चलाई जाएगी। इससे हैरिटेज के लिए यात्री सीधे पातालपानी स्टेशन पहुंच सकेंगे। महू से पातालपानी के बीच के पांच किमी के हिस्से में कुल छह छोटी-बड़ी पुलियाएं हैं। इसमें सबसे बड़ा पुल नेऊगुराड़िया में है।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

धार में आकाशीय बिजली गिरने से तीन बच्चों की मौत, एक घायल     |     राजस्व महाअभियान का दूसरा चरण 18 जुलाई से शुरू, CM अधिकारियों को दिए ये निर्देश     |     रेलवे स्टेशन की छत का प्लास्टर झड़कर यात्री पर गिरा, फटा सिर, गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती     |     PM कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस के ID कार्ड में छात्रों की जाति पूछने पर बवाल…कांग्रेस बोली- पहले धर्म अब जाति के नाम पर बांट रही भाजपा     |     विजयपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव से पहले बड़ी हलचल, कांग्रेस के संपर्क में ये भाजपा नेता     |     इंदौर से रुठे इंद्र देव को मनाने की कोशिश… सुमित्रा महाजन ने इंद्रेश्वर मंदिर में की विशेष पूजा     |     अस्पताल की छत का भरभराकर गिरा प्लास्टर, ड्यूटी कर रही महिला कर्मचारी घायल     |     MP के छतरपुर में होती है रावण की पूजा, 80 साल के रिटायर्ड शिक्षक ने घर में ही बनाया मंदिर     |     युवक की हत्या कर शव को खंडहर में फेंका, पुलिस और FSL टीम जांच में जुटी     |     MP महिला कांग्रेस की बड़ी बैठक, राष्ट्रीय अध्यक्ष अलका लांबा ने बीजेपी सरकार को जमकर घेरा     |