पहले पति को छोड़ दूसरे से की लव मैरिज, बोर हुई तो बनाए दो और बॉयफ्रेंड, फिर हुआ खूनी खेल

राजस्थान के अलवर में अवैध संबंधों में रोड़ा बन रहे पति को एक पत्नी ने मरवा डाला. महिला के दो प्रेमियों ने इस वारदात को अंजाम दिया. हैरानी की बात ये है कि महिला ने जिस पति की हत्या करवाई, उससे उसने दो साल पहले ही लव मैरिज की थी. लेकिन पति से बोर हुई तो महिला ने दो और बॉयफ्रेंड बना लिए. बाद में उन दोनों बॉयफ्रेंड से पति को मरवा डाला.

फिलहाल तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उनके खिलाफ आगामी कार्रवाई जारी है. पुलिस ने बताया कि दो साल पहले हरियाणा में सिरसा के रहने वाले इंद्रपाल (32) की शशि नामक महिला से लव मैरिज हुई थी. वो भी सिरसा की ही रहने वाली है. शशि पहले से ही शादीशुदा था. उसकी एक बेटी भी है. बावजूद इसके इंद्रपाल ने शशि से शादी की और बेटी को भी अपने साथ रखा.

कुछ समय बाद इंद्रपाल और शशि भिवाड़ी के खुशखेड़ा स्थित आनंदा ग्रीन सोसाइटी में किराए पर रहने लगे. दोनों का एक बेटा भी हुआ. शशि खुशखेड़ा की एक कंपनी में गार्ड की नौकरी करती थी. शादी के बाद भी शशि के कुछ और लोगों से अवैध संबंध बन गए. उनके फ्लैट के ऊपर दूसरे फ्लैट में दो लोग रहते थे. हैदराबाद का बालाकांत और फरीदाबाद का कुलदीप. वो दोनों भी खुशखेड़ा में प्राइवेट नौकरी करते थे. शशि के कुलदीप और बालाकांत, दोनों से अवैध संबंध बन गए थे.

तिजारा जाने के लिए कहा

लेकिन इंद्रपाल की वजह से शशि को दोनों के प्रेमियों के साथ मिलने में दिक्कत आ रही थी. फिर शशि ने दोनों प्रेमियों संग मिलकर इंद्रपाल को हमेशा-हमेशा के लिए रास्ते से हटाने का प्लान बनाया. दोनों प्रेमियों ने शशि को भिवाड़ी की एक दूसरी सोसाइटी में किराए का कमरा दिलवाया. यहां शशि अपने दोनों बच्चों के साथ रहने लगी. शशि बिना बताए घर से चली गई तो इंद्रपाल परेशान हो गया. तब बालाकांत और कुलदीप ने उसे बताया कि उसकी लापता बीवी के बारे में एक बाबा बता सकते हैं, जो कि तिजारा में रहते हैं. दोनों की बात मानकर इंद्रपाल 28 जून को देर रात तिजारा के लिए निकला. कुलदीप और बालाकांत भी एक स्कूटी पर उसके साथ तिजारा आए.

ऐसे आरोपियों तक पहुंची पुलिस

इसी दौरान रास्ते में धारदार हथियार से कुलदीप और बालकांत ने इंद्रपाल की गला रेत कर हत्या कर दी. फिर उसके बाद शव को वहीं छोड़कर फरार हो गए. 29 जून की सुबह पुलिस को शव की जानकारी मिली. पुलिस ने बाइक की नंबर प्लेट और कॉल रिकॉर्ड से मृतक इंद्रपाल की पहचान की. पुलिस ने फिर इंद्रपाल की सोसायटी में पहुंचकर उसके बारे में पता लगाया. तब शशि के अवैध रिश्तों की जानकारी उन्हें मिली. पुलिस ने बालाकांत और कुलदीप दोनों को हिरासत में लिया. उनसे पूछताछ की. दोनों जल्द ही टूट गए. उन्होंने हत्या की वारदात कबूल ली. पुलिस ने फिर शशि को भी गिरफ्तार कर लिया. तीनों के खिलाफ आगामी कार्रवाई जारी है.

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

धार में आकाशीय बिजली गिरने से तीन बच्चों की मौत, एक घायल     |     राजस्व महाअभियान का दूसरा चरण 18 जुलाई से शुरू, CM अधिकारियों को दिए ये निर्देश     |     रेलवे स्टेशन की छत का प्लास्टर झड़कर यात्री पर गिरा, फटा सिर, गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती     |     PM कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस के ID कार्ड में छात्रों की जाति पूछने पर बवाल…कांग्रेस बोली- पहले धर्म अब जाति के नाम पर बांट रही भाजपा     |     विजयपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव से पहले बड़ी हलचल, कांग्रेस के संपर्क में ये भाजपा नेता     |     इंदौर से रुठे इंद्र देव को मनाने की कोशिश… सुमित्रा महाजन ने इंद्रेश्वर मंदिर में की विशेष पूजा     |     अस्पताल की छत का भरभराकर गिरा प्लास्टर, ड्यूटी कर रही महिला कर्मचारी घायल     |     MP के छतरपुर में होती है रावण की पूजा, 80 साल के रिटायर्ड शिक्षक ने घर में ही बनाया मंदिर     |     युवक की हत्या कर शव को खंडहर में फेंका, पुलिस और FSL टीम जांच में जुटी     |     MP महिला कांग्रेस की बड़ी बैठक, राष्ट्रीय अध्यक्ष अलका लांबा ने बीजेपी सरकार को जमकर घेरा     |