अमरनाथ यात्रा के पहले दिन 13 हजार श्रद्धालुओं ने किए बाबा बर्फानी के दर्शन

बम बम भोले के जयघोष के साथ शनिवार को पवित्र गुफा में 13000 श्रद्धालुओं ने बाबा बर्फानी के दर्शन किए. बता दें कि दक्षिण कश्मीर हिमालय में कड़ी सुरक्षा में अमरनाथ तीर्थयात्रा शुरू हो चुकी है. तीर्थयात्रियों का पहला जत्था 3,880 मीटर की ऊंचाई पर स्थित अमरनाथ गुफा मंदिर की यात्रा शुरू करने के लिए बालटाल और नुनवान स्थित दो आधार शिविरों से रवाना हुआ.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमरनाथ यात्रा आरंभ होने पर तीर्थयात्रियों को शुभकामनाएं दीं और कहा कि बाबा बर्फानी के दर्शन कर शिवभक्तों में असीम ऊर्जा का संचार होता है.

प्रधानमंत्री ने दी शुभकामनाएं

प्रधानमंत्री ने ‘एक्स’ पर एक पोस्ट में कहा कि पवित्र अमरनाथ यात्रा आरंभ होने पर सभी तीर्थयात्रियों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं. बाबा बर्फानी के दर्शन और वंदन से जुड़ी यह यात्रा शिवभक्तों में असीम ऊर्जा का संचार करने वाली होती है. उनकी कृपा से सभी श्रद्धालुओं का कल्याण हो, यही कामना है. जय बाबा बर्फानी.

श्रद्धालुओं को न हो असुविधा

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि केंद्र सरकार अमरनाथ गुफा मंदिर की सुरक्षित, सुगम और सुखद तीर्थयात्रा सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध है और श्रद्धालुओं को किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े, इसके लिए हरसंभव प्रबंध कर रही है.

अमित शाह ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर एक पोस्ट में कहा कि अमरनाथ यात्रा भारतीय संस्कृति की पारंपरिकता और अविरलता का शाश्वत प्रतीक है. आज से इस दिव्य यात्रा का शुभारंभ हुआ है. मैं सभी श्रद्धालुओं को बाबा के दर्शन-पूजन की शुभकामनाएं देता हूं. पीएम मोदी के नेतृत्व में हमारी सरकार श्रद्धालुओं की सुरक्षित, सुगम और सुखद यात्रा के लिए संकल्पित है. हर-हर महादेव.

19 अगस्त तक चलेगी तीर्थयात्रा

यात्रा सुबह-सुबह दो मार्गों से शुरू हुई. पहला अनंतनाग में 48 किलोमीटर लंबा पारंपरिक नूनवान-पहलगाम मार्ग और दूसरा गांदरबल में 14 किलोमीटर लंबा छोटा, लेकिन अधिक खड़ी चढ़ाई वाला बालटाल मार्ग. 52 दिनों तक चलने वाली यह तीर्थयात्रा 19 अगस्त को खत्म होगी.

एक अधिकारी ने बताया, ‘पहले दिन 13,736 तीर्थयात्री प्राकृतिक रूप से बने हिम शिवलिंग के दर्शन करने के लिए गुफा मंदिर पहुंचे.’ तीर्थयात्रियों में 3,300 महिलाएं, 52 बच्चे, 102 साधु और 682 सुरक्षाकर्मी शामिल थे, जो दोनों मार्गों से मंदिर पहुंचे.

एलजी ने किया तीर्थयात्रियों को रवाना

जम्मू कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने जम्मू के भगवती नगर स्थित यात्री निवास आधार शिविर से 4,603 तीर्थयात्रियों के पहले जत्थे को रवाना किया. यात्रा के सुचारू संचालन के लिए कड़े सुरक्षा प्रबंध किए गए हैं. यात्रा मार्ग पर पुलिस, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल, भारत-तिब्बत सीमा पुलिस और अन्य अर्धसैनिक बलों के हजारों सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है. हवाई निगरानी भी की जा रही है.

इस बीच, सार्वजनिक उपक्रम ओएनजीसी ने कश्मीर में अमरनाथ के दो आधार शिविरों में 100 बेड वाले दो अस्पताल स्थापित किए हैं और घोषणा की है कि वार्षिक यात्रा के बाद भी ये चालू रहेंगे. पिछले साल 4.5 लाख से अधिक तीर्थयात्रियों ने अमरनाथ गुफा मंदिर में दर्शन किए थे.

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

शाजापुर पहुचे आईजी, डीआईजी, पुलिस अधिकारियों की ली बैठक त्योहार के इंतजाम देखे     |     नाल साहब की सवारी को लेकर कलेक्टर एवं एसपी ने किया जुलूस मार्ग का पैदल भ्रमण     |     वालेंटियर्स अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन करें और पर्व के दौरान किसी भी तरह की गड़बड़ी नहीं होने दें – कलेक्टर सुश्री बाफना,एसपी यशपाल सिंह राजपूत ने नाल साहब जुलूस की बैठक में समाजजनो से कहा     |     धार में आकाशीय बिजली गिरने से तीन बच्चों की मौत, एक घायल     |     राजस्व महाअभियान का दूसरा चरण 18 जुलाई से शुरू, CM अधिकारियों को दिए ये निर्देश     |     रेलवे स्टेशन की छत का प्लास्टर झड़कर यात्री पर गिरा, फटा सिर, गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती     |     PM कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस के ID कार्ड में छात्रों की जाति पूछने पर बवाल…कांग्रेस बोली- पहले धर्म अब जाति के नाम पर बांट रही भाजपा     |     विजयपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव से पहले बड़ी हलचल, कांग्रेस के संपर्क में ये भाजपा नेता     |     इंदौर से रुठे इंद्र देव को मनाने की कोशिश… सुमित्रा महाजन ने इंद्रेश्वर मंदिर में की विशेष पूजा     |     अस्पताल की छत का भरभराकर गिरा प्लास्टर, ड्यूटी कर रही महिला कर्मचारी घायल     |