यूपी के मुस्लिम सांसद सीएम योगी के मुरीद, अफजाल अंसारी के बाद इमरान मसूद के तारीफ के क्या मायने

लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही उत्तर प्रदेश में इंडिया गठबंधन से जीते मुस्लिम सांसद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मुरीद हो गए हैं. पहले गाजीपुर के सपा सांसद अफजाल अंसारी और अब सहारनपुर से कांग्रेस सांसद इमरान मसूद ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ में कसीदे पढ़े. इन दोनों मुस्लिम सांसदों का ना ही बीजेपी से कोई ताल्लुक है और ना ही ये सीएम योगी की राजनीति से प्रभावित हैं. इसके बावजूद दोनों ही मुस्लिम सांसदों ने जिस तरह से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के काम की तारीफ की है, उसके अब सियासी मायने निकाले जा रहे हैं?

पश्चिम यूपी की सियासत के मुस्लिम चेहरे और सहारनपुर लोकसभा से पहली बार सांसद चुने गए इमरान मसूद ने सूबे की बिजली व्यवस्था को लेकर योगी सरकार की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा, ‘मेरा यहां (सहारनपुर) में बहुत-बहुत दिन तक लाइट नहीं आती थी. गर्मियों में हर साल ऐसा ही हाल रहता था, लेकिन इस बार इतनी भीषण गर्मी में भी यूपी में बिजली सही तरीके से आई है और बिजली विभाग के कर्मियों ने लगातार काम किया है. इस वजह से सूबे में बहुत ही बेहतर तरीके से बिजली आ रही.

इमरान मसूद ने सीएम योगी की तारीफ की

इमरान मसूद ने कहा कि भीषण गर्मी में ट्रांसफार्मर का फूंकना और फाल्ट आना तकनीकी दिक्कत है, लेकिन योगी सरकार के बिजली की दिशा में अहम कार्य करने के चलते इस बार कोई परेशानी नहीं हुई. इसके कारण लोगों को अपेक्षित बिजली मिल रही है. उन्होंने कहा कि विपक्ष में होने का मतलब यह नहीं है कि हर बात या कार्य की आलोचना की जाए. अच्छे कार्यों की सराहना भी की जानी चाहिए. उन्होंने ने कहा, अगर लाइट जल रही है और मैं कहू कि लाइट बंद है तो मेरी बात कोई नहीं मानेगा. अगर सकारात्मक काम हुआ है तो उसकी तारीफ भी करनी है.

अफजाल अंसारी ने भी पढ़े तारीफ में कसीदे

सहारनपुर सांसद से पहले गाजीपुर के सांसद अफजाल अंसारी भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की शान में कसीदे पढ़ चुके हैं. 2024 लोकसभा चुनाव नतीजे के बाद अफजाल ने कहा था कि अगर योगी आदित्यनाथ वाराणसी में प्रचार नहीं करते तो पीएम नरेंद्र मोदी चुनाव हार जाते. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ की वजह से ही बीजेपी यूपी में 33 सीटें जीत पाई. उन्होंने कहा था कि अगर योगी प्रचार नहीं करते तो बीजेपी तीन सीटें ही जीत पाती. उनका कहना था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का करिश्मा खत्म हो चुका है. यही कारण है कि बीजेपी वाराणसी के आसपास की सभी सीटें हार गई जबकि योगी आदित्यनाथ गोरखपुर के साथ-साथ पड़ोस की सभी लोकसभा सीटें जीतने में कामयाब रहें.

तारीफ के पीछे क्या है राजनीतिक मकसद

अफजाल अंसारी सपा के टिकट पर गाजीपुर से सांसद चुने गए हैं. अफजाल अंसारी बाहुबली मुख्तार अंसारी के बड़े भाई हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधने और सीएम योगी आदित्यनाथ की तारीफ करने के पीछे उनका राजनीतिक मकसद है. इस पर अफजाल अंसारी कहते है कि उन्होंने जो कहा है वह पूरी तरह से सच है. उनका कहना है कि आप इस बयान का कोई भी मतलब निकाल सकते हैं. इसी तरह से इमरान मसूद कहते हैं कि योगी सरकार की तारीफ करने को सियासत के नजरिए से नहीं देखना चाहिए. इमरान ने कहा कि सिर्फ आलोचना करना ही हमारा मसकद नहीं है. इस बार गर्मी में बिजली सुचारू रूप से चल रही है, तो ऐसे में तारीफ करनी चाहिए.

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 
ताज़ा ख़बर पाने के लिए एंड्राइड एप्लीकेशन इनस्टॉल करें :

धार में आकाशीय बिजली गिरने से तीन बच्चों की मौत, एक घायल     |     राजस्व महाअभियान का दूसरा चरण 18 जुलाई से शुरू, CM अधिकारियों को दिए ये निर्देश     |     रेलवे स्टेशन की छत का प्लास्टर झड़कर यात्री पर गिरा, फटा सिर, गंभीर हालत में अस्पताल भर्ती     |     PM कॉलेज ऑफ एक्सीलेंस के ID कार्ड में छात्रों की जाति पूछने पर बवाल…कांग्रेस बोली- पहले धर्म अब जाति के नाम पर बांट रही भाजपा     |     विजयपुर विधानसभा सीट पर उपचुनाव से पहले बड़ी हलचल, कांग्रेस के संपर्क में ये भाजपा नेता     |     इंदौर से रुठे इंद्र देव को मनाने की कोशिश… सुमित्रा महाजन ने इंद्रेश्वर मंदिर में की विशेष पूजा     |     अस्पताल की छत का भरभराकर गिरा प्लास्टर, ड्यूटी कर रही महिला कर्मचारी घायल     |     MP के छतरपुर में होती है रावण की पूजा, 80 साल के रिटायर्ड शिक्षक ने घर में ही बनाया मंदिर     |     युवक की हत्या कर शव को खंडहर में फेंका, पुलिस और FSL टीम जांच में जुटी     |     MP महिला कांग्रेस की बड़ी बैठक, राष्ट्रीय अध्यक्ष अलका लांबा ने बीजेपी सरकार को जमकर घेरा     |