Breking उज्जैन एसटीएफ ने पकड़ी फर्जी एडवायजरी कंपनी, आरोपियों से 22 मोबाईल एवं लाखो रूपये का लेखा-जोखा बरामद

0 908

उज्जैन एसटीएफ ने पकड़ी फर्जी एडवायजरी कंपनी • BIG MONEY RESEARCH (BMR) के नाम से चलाते थे फर्जी एडवायजरी कंपनी।

आरोपियों से 22 मोबाईल एवं लाखो रूपये का लेखा-जोखा बरामद।
शाजापुर के मक्सी में चला रहे थे ऑफिस > तीन आरोपी पूर्व में सूरत, गुजरात में भी हो चुके है गिरफ्तार।
काल्पनिक नाम से इन्वेस्टरों को फोन कर करते थे धोखाधडी
एक चारपहिया वाहन जप्त।

माननीय मुख्यमंत्री मध्य प्रदेश शासन द्वारा फर्जी एडवायजरी कंपनियों के विरूद्ध विशेष अभियान चलाया जा रहा है जिसको दृष्टिगत रखते हुए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक एसटीएफ श्री विपिन माहेश्वरी द्वारा एसटीएफ की समस्त इकाइयों को फर्जी एडवायजरी कंपनियों के विरूद्ध कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया था। इसी तारतम्य मे उपुअ. अभिजित रावत व निरी. दीपिका शिन्दे की टीम को BIG MONEY RESEARCH (BMR) नाम से फर्जी एडवायजरी कंपनी को संचालित करने वाले गिरोह को पकड़ने में सफलता प्राप्त हुई।

सटीएफ टीम उज्जैन को मुखबीर सूचना प्राप्त हुई कि 7-8 व्यक्ति आशाराम कॉलोनी, मक्सी जिला शाजापुर में फर्जी एडवायजरी कंपनी चलाकर लोगों से पैसा लेकर धोखाधडी कर रहे है। उक्त सूचना पर एसटीएफ उज्जैन की टीम द्वारा मक्सी स्थित कार्यालय पर घेराबंदी कर दबिश दी गई। जहां 08 व्यक्ति इन्वेस्टरों से मोबाइल पर संपर्क करते पाये गये आरोपियों से 22 T मोबाईल, 01 स्कॉर्पियो कार तथा लाखों रूपये का लेखा-जोखा जब्त किया गया है। आरोपी जिला उज्जैन के माकडोन थाना क्षेत्र एवं जिला देवास के निवासी है, जो विगत 01 वर्ष से उक्त फर्जी कंपनी संचालित कर रहे थे। आरोपियों द्वारा इन्वेस्टरों से रजिस्ट्रेशन के लिये 5000/- रूपये एवं निवेश, सर्विस के लिये 01 लाख रूपये तक का सर्विस चार्ज लिया जाता था। निवेश की राशि स्वयं के बैंक खातों में डलवाकर धोखाधड़ी की जाती थी। आरोपियों द्वारा पूर्व में जिला देवास में इसी नाम से फर्जी कंपनी संचालित की जाती थी।

गिरफ्तार आरोपियों में से 03 आरोपी पूर्व में गुजरात जिला सूरत के थाना सायबर क्राईम अपराध क्रमांक 11210060000046/2022 धारा 420.120-बी भादवि. 66 डी आई टी एक्ट के प्रकरण में गिरफ्तार हो चुके है। आरोपियों द्वारा निवेशको के साथ की गई धोखाधडी के संबंध में और जानकारी एकत्रित की जा रही है।

प्रकरण का मुख्य आरोपी थाना एसटीएफ भोपाल के अपराध क्रमांक 49/21 धारा 419,420,201,34 भादवि 66-डी आई. टी. एक्ट में घटना दिनांक से फरार था। इस प्रकरण में आरोपी द्वारा अपने अन्य साथियों के साथ SAFE TRADERS COMPANY के नाम से निवेशकों के साथ धोखाधडी की थी।

मालवा अभीतक की ताजा खबर सीधे पाने के लिए : 

जिन ग्राम पंचायतों में हितग्राहियों के आवेदन कम आए हैं वहां पुन: शिविर लगाएं- कलेक्टर श्री जैन — कलेक्टर ने 10 ग्राम पंचायतों से संपन्न हुई ऑनलाईन जनसुनवाई में कहा     |     जिले के सभी शिक्षक “एम शिक्षा मित्र” एप्प पर अपनी उपस्थिति दर्ज करें- कलेक्टर श्री जैन — विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी एवं स्त्रोत समन्वयकों की बैठक संपन्न     |     हिंसा को त्याग बापू ने पढ़ाया था अहिंसा का पाठ: सिंह – जिला कांग्रेस ने मनाई राष्ट्रपिता बापू व पूर्व प्रधानमंत्री जी की जयंती     |     मक्सी में लायंस क्लब ने गांधी जयंती मनाई     |     स्वामित्व योजना के तहत मो.बड़ोंदिया के 19 गांवो के 2492 लोगों को अधिकार अभिलेख का वितरण     |     Video गोहिल संपूर्ण हॉस्पिटल में अंतरराष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन     |     Video- अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर शाजापुर क़े वरदान हॉस्पिटल में भी निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन     |     एक्सन मोड़ में एसपी, सट्टा वालो पर बरपा कहर,लालघाटी थाना के दुपाड़ा में बड़ी कार्यवाही,चौकी प्रभारी भी निलंबित     |     नगरीय निकाय शहर के सुव्यवस्थित यातायात को प्राथमिकता दें- कलेक्टर श्री जैन     |     Shajapur कलेक्टर ने जिले के गांवों का आकस्मिक निरीक्षण कर ग्रामीणों से चर्चा की     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9907788088